Cold cough: जानिए खांसी जुकाम दूर करने के बेहद असरदार 20 घरेलु उपचार, तुरंत मिलेगा खांसी जुकाम से आराम | Troubled by Cold cough follow these 20 effective home remedies in Hindi

Must Read

Dr. Nick Kumar Jaiswal
Dr. Nick Kumar Jaiswalhttp://goodswasthya.com
He is a professional blog writer for more than 2 years, he holds a degree in Doctorate in Pharmacy(Pharm D) with experience in medicine dispensing and medication ADRs. His interest in medicine makes him excellent in his research project. Now he prefers to write blogs about medications and diseases. His hobbies include football and watching Netflix. He loves reading novels and gain knowledge about more medication ADRs. He is very helpful in nature and you will often find him helping others in the treatment. डॉ जयसवाल 2 से अधिक वर्षों से एक पेशेवर ब्लॉग लेखक है, ये दवा वितरण और दवा एडीआर में अनुभव के साथ एक फार्म डी डिग्री होल्डर है। चिकित्सा में उनकी रुचि उन्हें अपनी शोध परियोजना में उत्कृष्ट बनाती है। अब वह दवाओं और बीमारियों के बारे में ब्लॉग लिखना पसंद करते हैं। उनके शौक में फुटबॉल और नेटफ्लिक्सिंग, उपन्यास पढ़ना और अधिक दवा एडीआर के बारे में ज्ञान प्राप्त करना शामिल है। वह प्रकृति में बहुत मददगार है और अक्सर आप इन्हे दूसरों की इलाज में मदद करते हुए देख पाएंगे ।

Cold cough: जानिए खांसी जुकाम दूर करने के बेहद असरदार 21 घरेलु उपचार, तुरंत मिलेगा खांसी जुकाम से आराम | Troubled by Cold cough follow these 21 effective home remedies in Hindi

दोस्तों! खांसी जुकाम की समस्या ऐसी समस्या है, जो अक्सर मौसम परिवर्तन के कारण होती है और इस समस्या से बचने के लिए कई उपाय किए जाते हैं। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको khansi jukam ke gharelu upay के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं। यदि आप जानना चाहते हैं कि khansi jukam Kya hota hai और khansi jukam dur karne ke gharelu upay kya hai, तो हम इस आर्टिकल के अंतर्गत khansi jukam dur karne ke gharelu upay के सभी पहलुओं के बारे में बताने वाले हैं।

यदि आप चाहते हैं कि आप घर पर ही पेट दर्द की बीमारियों का इलाज कर सके तो आप आसानी से khansi jukam dur karne ke gharelu upay घर पर ही कर सकते हैं।

खांसी जुकाम क्या है? (What is Cold cough in Hindi?)

खांसी जुकाम क्या है? (What is Cold cough in Hindi?)

खांसी जुकाम एक ऐसी समस्या है जो बदलते मौसम में अक्सर देखी जाती है। अब बात करें खासी जुकाम के कारणों की तो इसके अंतर्गत एलर्जी मौसम परिवर्तन, वायरल और व्यक्ति रियल इंफेक्शन के साथ-साथ साइनस इनफेक्शन आदि आते हैं। खांसी जुकाम काफी दिनों तक रह जाने पर यह अधिक समस्या जन्म देती है। साधारण खांसी को विभिन्न घरेलू उपायों के माध्यम से दूर किया जा सकता है लेकिन जब खांसी जुकाम लंबे समय तक चले तो चिकित्सक की सलाह लेना बेहद आवश्यक हो जाता है।

खांसी जुकाम को दूर करने के उपाय क्या है? (What are the remedies to cure Cold cough in Hindi?)

दोस्तों! अक्सर लोग खांसी जुकाम में गूगल पर सर्च करते हैं कि खांसी जुकाम के घरेलू उपाय क्या है। Cold cough ke upay kya hai in Hindi के अंतर्गत यहां हम आपके लिए खांसी जुकाम को दूर करने के आसान घरेलू उपाय लेकर आए हैं। कई बार ऐसा होता है कि जब आप खांसी जुकाम के घरेलू उपाय देखते हैं तो कुछ ऐसे घरेलू उपाय मिलते हैं जिनसे खांसी जुकाम को ठीक करने के लिए घर पर लागू करना काफी मुश्किल हो जाता है

लेकिन Cold cough ke aasan aur asardar gharelu upay के इस आर्टिकल में हम आपको बेहद आसान घरेलू उपाय बताएंगे, जिसकी मदद से अब आप खांसी जुकाम का इलाज आसानी से कर सकते हैं। खांसी जुकाम (Cold cough) के घरेलू उपाय अथवा Cold cough Home remedies in Hindi निम्नलिखित हैं –

कॉफी-

कॉफी और चाय जैसे गर्म पेय पीते रहें।  आप गर्म पानी भी पी सकते हैं।

हल्दी और अदरक पाउडर –

पानी में हल्दी पाउडर, अदरक पाउडर और एक चम्मच शहद मिलाएं।  इससे न सिर्फ आपकी खांसी बल्कि आपके शरीर के दर्द, सर्दी-जुकाम और सिरदर्द से भी राहत मिलेगी।

गर्म भाप-

जुकाम के लिए गर्म भाप सबसे फायदेमंद तरीका है।  इसके लिए बाजार में एक स्टीम मशीन है और अगर आप इसे खरीदना नहीं चाहते हैं, तो आप उबलते पानी में मोम, नीलगिरी का तेल या सूंघने का कैप्सूल डुबोकर सूंघ सकते हैं। यह प्रक्रिया आपको बहुत जल्द राहत देगी।

तुलसी के पत्ते –

चाय बनाते समय उसमें तुलसी के पत्ते और पिसी हुई अदरक और काली मिर्च भी डाल दें, इस पेय से आपको सर्दी-खांसी में काफी आराम मिलेगा.

च्यवनप्राश-

सर्दी-खांसी से पीड़ित व्यक्ति को च्यवनप्राश (आयुर्वेदिक टॉनिक) या आंवला, मुरब्बा रखना चाहिए। यह विटामिन सी से भरपूर होता है जो आपको सर्दी और खांसी से लड़ने में मदद करेगा।

खांसी जुकाम को दूर करने के उपाय क्या है? (What are the remedies to cure Cold cough in Hindi?)

 हल्दी-

हल्दी में मौजूद करक्यूमिन छाती से कफ और बलगम को निकालता है और सीने में दर्द और सांस की तकलीफ को कम करता है।  इसके विरोधी भड़काऊ तत्व गले और छाती में बेचैनी, जलन और दर्द को दूर करने में मदद करते हैं।  एक गिलास गुनगुने पानी में एक चुटकी हल्दी पाउडर मिलाएं।  रोजाना इससे गरारे करें।  इसके अलावा एक गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर उबाल लें।  हो सके तो इसमें दो चम्मच शहद और एक चुटकी मिर्च पाउडर मिलाकर दिन में दो से तीन बार इस दूध का सेवन करें।  फ़ायदा मिलेगा।

अदरक –

एक पानी में एक चम्मच अदरक का पाउडर मिलाएं।  इस बार इसे ढक्कन से ढककर 5-10 मिनट तक उबालें।  जब यह ठंडा हो जाए तो इसमें थोड़ा सा शहद मिलाएं।  इस पेय को दिन में कम से कम तीन बार पियें।  साथ ही एक चम्मच अदरक पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और लौंग के पाउडर को दूध या शहद में मिलाकर दिन में तीन बार पिएं।  आप चाहें तो अदरक का एक टुकड़ा मुंह में चबा सकते हैं।  अदरक का रस शरीर से कफ या बलगम को बाहर निकालने में मदद करेगा।

Leprosy Disease: कुष्ठ रोग जैसे भयंकर बीमारी से बचने के बेहद आसान 15 घरेलू उपाय और उपचार अपनाएं और देखें परिणाम | Know about Leprosy Disease and 15 Best Home Remedies and Treatment To Cure it

नमक का पानी –

सर्दी और कफ से छुटकारा पाने का सबसे आसान और सस्ता तरीका है नमक का पानी.  नमक श्वसन तंत्र से कफ को दूर करने में मदद करता है।  एक गिलास हल्के गर्म पानी में एक चम्मच नमक मिलाएं।  इससे दिन में दो या तीन बार गरारे करें।

प्याज –

प्याज का रस, नींबू का रस, शहद और पानी समान मात्रा में मिलाकर 5-6 मिनट तक उबालें।  इस हल्के गर्म पानी को दिन में कम से कम तीन से चार बार पिएं।  फ़ायदा मिलेगा।

नींबू और शहद –

नींबू पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पिएं।  शहद श्वसन बैक्टीरिया को नष्ट करने में मदद करता है।  यह छाती से कफ या बलगम को हटाकर गले को साफ करने में भी मदद करता है।

एप्पल साइडर विनेगर –

एक कप गुनगुने पानी में दो चम्मच एप्पल साइडर विनेगर मिलाएं।  इसमें एक चम्मच शहद मिलाएं और इस पेय को दिन में कम से कम दो या तीन बार पिएं।  लगभग 8-10 दिनों तक पिएं।  जल्द ही बलगम की समस्या नियंत्रण में आ जाएगी

नींबू का रस – 

यह सबसे सरल चूर्ण है।  गुनगुने पानी से गालों को मलने से गले की खराश तुरंत दूर हो जाती है।  आप अपने गालों को एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच नमक या एक चुटकी हल्दी के साथ भिगो सकते हैं। इसे आप गुनगुने पानी में नींबू का रस और शहद मिलाकर भी आजमा सकते हैं।  या आप किसी भी ओवर-द-काउंटर फ़ार्मेसी से मिलने वाले घोल का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन सुनिश्चित करें कि पानी बहुत गर्म न हो।  ऐसा इसलिए है क्योंकि ज्यादा गर्म पानी गले में खराश पैदा कर सकता है।

पानी

पर्याप्त पानी पीने से निर्जलीकरण और पतली कॉफी से बचाव होता है।  आपके शरीर को अच्छी तरह से हाइड्रेट रखने के लिए पानी आपके लिए सबसे अच्छा पेय है।  आप जूस और चाय जैसे अन्य पेय भी पी सकते हैं।

ब्लैक टी –

आप ब्लैक टी में शहद और नींबू मिलाकर भी ट्राई कर सकते हैं क्योंकि यह कफ को कम करने में मदद करती है।  इसके अलावा, यह गले में खराश को कम करता है।  गर्म सूप पीने से नाक की भीड़ कम हो जाती है और सांस लेने में आसानी होती है।

ह्यूमिडिफायर –

कमरे में ह्यूमिडिफायर का उपयोग करने से आम सर्दी के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है, जिसमें काली खांसी और गले में खराश शामिल हैं।  ह्यूमिडिफायर कमरे में नमी बनाए रखने में मदद करता है।  लेकिन इसके पानी को रोजाना बदलना सुनिश्चित करें।

आवश्यकतानुसार आराम –

नींद आपके शरीर को आराम देती है और इसे ठीक करने में मदद करती है।  जब आप सोते हैं तो आपका शरीर साइटोकिन्स नामक प्रोटीन बनाता है, जो सूजन और संक्रमण से लड़ने में महत्वपूर्ण होते हैं।आप अपने शरीर को सामान्य सर्दी-जुकाम के वायरस से लड़ने में मदद करने के लिए थोड़ी और नींद लेने की कोशिश कर सकते हैं।

शहद की चाशनी-

सबसे पहले, शहद आपके गले को नरम करने और वायरस और बैक्टीरिया से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है।  इसलिए, जब आप बीमार होते हैं तोपहला नुस्खा जो मैं सुझाता हूं वह है शहद वाली चाय। इस चाय को बनाने का तरीका यहां बताया गया है।

इसके लिए आपको निम्नलिखित सामग्री की आवश्यकता है –

  • 1 नींबू का रस
  • एक चम्मच शहद (25 ग्राम)
  • 1 बड़ा चम्मच नारियल का तेल (15 ग्राम)

इसे बनाने की विधि निम्नलिखित है –

  • सबसे पहले नींबू को निचोड़ें, फिर नींबू के रस को कंटेनर में डालें।
  • फिर इसमें शहद और नारियल का तेल मिलाएं।
  • अच्छी तरह मिलाएं और दिन में दो बार पिएं।
खांसी जुकाम को दूर करने के उपाय क्या है? (What are the remedies to cure Cold cough in Hindi?)
image source :- http://www.canva.com

लहसुन चीनी का सूप

लहसुन एक बेहतरीन एंटीसेप्टिक है जो खांसी न होने पर हमारी मदद करेगा।  इसके अलावा, यह नुस्खा आम फ्लू वाले लोगों के लिए विशेष रूप से उपयुक्त है।

इस सूप को बनाने के लिए निम्नलिखित सामग्री की जरूरत है –

  • १ कप (२५० मिली) पानी
  • लहसुन की 2 कलियां
  • 3 बड़े चम्मच चीनी (30 ग्राम)

अब इसे बनाने की विधि निम्नलिखित है –

  • सबसे पहले लहसुन को छीलकर बारीक काट लें।
  • एक बर्तन में पानी उबालें, उसमें लहसुन और चीनी डालें।
  • 15 मिनट तक उबलने के बाद आंच बंद कर दें और इसे ठंडा होने दें।
  • जब तापमान खाने के लिए आरामदायक हो, तो यह पूरा हो जाता है।
  • दिन में कई बार दोहराएं।

 अनीस चाय

सौंफ, अपनी विशिष्ट सुगंध के साथ, गले में खराश और खांसी के लिए एक उत्कृष्ट उपाय है।

सामग्री की जरूरत –

  • 2 बड़े चम्मच सौंफ के बीज (20 ग्राम)
  • १ कप (२५० मिली) पानी

बनाने की विधि-

  • सबसे पहले सौंफ के बीजों को हल्का सा पीसकर बर्तन में रख लें।
  • एक बर्तन में पानी डालकर उबाल लें।  15 मिनट तक उबालें।
  • 15 मिनट के बाद आंच बंद कर दें और 5 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • पीने से पहले पानी निथार लें (आप इसे शहद के साथ मीठा भी कर सकते हैं)।
  • चाय को जितना हो सके गर्म करें और इसे दिन में तीन बार पियें।

अंजीर चाय

स्वादिष्ट अंजीर एक ऐसा फल है जो कई तरह से शरीर के लिए अच्छा होता है और बहुत ही पौष्टिक भी होता है।  गर्म अंजीर की चाय अक्सर एक ऐसी रेसिपी है जो पीढ़ियों से चली आ रही है।

सामग्री

  • 3 अंजीर
  • 1 कप पानी (250 मिली)

बनाने की विधि –

  • सबसे पहले अंजीर को छीलकर उसका गूदा निकाल लें।
  • एक बर्तन में मांस और पानी डालकर 10 मिनट तक पकाएं।
  • अंत में ठंडा होने दें और 5 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • जितना हो सके गर्म पियें।  इस चाय को सुबह और रात में पीने की सलाह दी जाती है।

प्याज़ का सूप

  • लहसुन की तरह प्याज भी शानदार कीटाणुनाशक है।  यह सर्दी, फ्लू और खांसी के खिलाफ प्रभावी है।
  • इसे सलाद में कच्चा खाने के अलावा बेहद स्वादिष्ट सूप के तौर पर भी खाया जा सकता है।

सामग्री

  • 2 लीटर पानी
  • 1 किलो प्याज
  • 8 बड़े चम्मच शहद (200 ग्राम)
  • 2 कप चीनी (400 ग्राम)

बनाने की विधि –

  • एक बर्तन में पानी डालकर उबाल लें।
  • प्याज को छीलकर बारीक काट लें। पहले से उबले हुए पानी में प्याज, शहद और चीनी मिलाएं।
  • 15 मिनट तक उबालें और ठंडा होने दें।
  • कांच के जार या ढक्कन वाले जार में ठंडा स्टोर करें।
  • दिन में लगभग 3 बड़े चम्मच पिएं।

निष्कर्ष (Conclusion)

हमें इस बात की उम्मीद है कि Cold cough ke gharelu upay kya hai in Hindi आर्टिकल में हमने इस विषय में संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई है। खांसी जुकाम से छुटकारा पाने के बारे में आपको हमारे आर्टिकल में जो जानकारी मिली है, वह आपके लिए बेहद फायदेमंद होगी। यदि आप खांसी जुकाम के विषय में कुछ अन्य सुझाव देना चाहते हैं तो हमें कमेंट करके बताना न भूलें। इसके अलावा खांसी जुकाम की पूरी जानकारी से जुड़ी यह पोस्ट आपको कैसी लगी, हमें कमेंट में जरूर बताएं ताकि हम आपके लिए और भी जानकारी से भरी पोस्ट लेकर आ सके।

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This