Skin disease: यदि आपको भी है त्वचा रोग सम्बंधित दाग और मुंहासे की समस्याएं, तो तुरंत अपनाएं ये 18 रामबाण घरेलू उपाय | 18 Best Home remedies and Treatments for Skin Disease in Hindi

Must Read

Dr. Arti Sharma
Dr. Arti Sharmahttp://goodswasthya.com
Dr. Arti Sharma is a certified BAMS doctor with at least 2 years of article writing experience on various medication and therapeutic lines. She is known for her best work in ayurvedic medication knowledge and there uses. Her hobbies including reading books and writing articles. With a good grip in sports, she uses to play for her university cricket team as a captain. Her work for ayurvedic is well known. डॉ आरती शर्मा एक प्रमाणित BAMS डॉक्टर है जिन्हे कम से कम 2 साल का विभिन्न दवाइयों और चिकित्सीय रेखाओं पर लेखन का अनुभव है। वह आयुर्वेदिक दवाओं के ज्ञान और उनके उपयोग में अपने बेहतरीन काम के लिए जानी जाती हैं। उनका शौक किताबें पढ़ना और लिखना है। खेलों में अच्छी पकड़ के साथ, वह एक कप्तान के रूप में अपनी विश्वविद्यालय क्रिकेट टीम के लिए खेल चुकी हैं। आयुर्वेद के क्षेत्र में उनका काम अच्छी तरह से जाना जाता है।

Skin disease: यदि आपको भी है त्वचा रोग सम्बंधित दाग और मुंहासे की समस्याएं, तो तुरंत अपनाएं ये 18 रामबाण घरेलू उपाय | 18 Best Home remedies and Treatments for Skin Disease in Hindi

इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको skin disease ke gharelu upay के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं। यदि आप जानना चाहते हैं कि skin disease Kya hota hai और skin disease dur karne ke gharelu upay kya hai, तो हम इस आर्टिकल के अंतर्गत skin disease dur karne ke gharelu upay के सभी पहलुओं के बारे में बताने वाले हैं। यदि आप चाहते हैं कि आप घर पर ही त्वचा रोग का इलाज कर सके तो आप आसानी से skin disease dur karne ke gharelu upay घर पर ही कर सकते हैं।

त्वचा रोग क्या है? (What is skin disease in Hindi?)

त्वचा रोग क्या है? (What is skin disease in Hindi?)

स्किन रोग आज के समय में एक आम समस्या हो गई है क्योंकि कई लोगों के चेहरे या शरीर के अन्य भागों पर त्वचा संबंधित विकार उत्पन्न हो जाते हैं। प्रदूषण युक्त वातावरण के कारण भी त्वचा संबंधी ऐसे रोग हो सकते हैं। गर्मी के मौसम में त्वचा संबंधी समस्याएं बढ़ने लगती हैं। कई बार घर गलत खानपान से भी त्वचा संबंधी रोग उभर आते हैं। कई बार विभिन्न प्रकार की भोज्य पदार्थों जैसे उड़द की दाल के साथ दूध का मिश्रण, मछली और दूध आदि के एक साथ मिश्रण से भी त्वचा संबंधी रोग उत्पन्न हो सकते हैं।

इसके अलावा मछली, पनीर, अंडा, दही आदि के साथ दूध के सेवन से त्वचा संबंधित गंभीर बीमारियां उत्पन्न होती है। इसके अलावा खट्टे फल, मछली, मीट, अंडे आदि के साथ दही का सेवन नहीं करना चाहिए।

Knee pain: जानिए घुटनों में दर्द (knee pain) दूर करने के असरदार और आसान 12 घरेलू उपाय | Best and Effective 12 Home Remedies and Treatment s For Knee pain in Hindi

त्वचा रोग को दूर करने के उपाय क्या है? (What are the remedies to prevent skin disease in Hindi?)

दोस्तों! अक्सर लोग आंखों के दर्द में गूगल पर सर्च करते हैं कि आंखों के दर्द के घरेलू उपाय क्या है। skin disease ke upay kya hai in Hindi के अंतर्गत यहां हम आपके लिए त्वचा रोग को दूर करने के आसान घरेलू उपाय लेकर आए हैं। आयुर्वेद में त्वचा संबंधित रोग को दूर करने के लिए कई उपाय किए जाते हैं। त्वचा रोग के आसान घरेलू उपाय के बारे में जानने के लिए इस पोस्ट को पूरा पढ़े ताकि इसके सभी घरेलू उपाय आप आसानी से जान सकें। त्वचा रोग के घरेलू उपाय अथवा eye pain home remedies in Hindi निम्नलिखित हैं –

1) शहद | Honey

शहद फंगस के विकास को रोकने में मदद करता है।  ऐसा इसलिए है क्योंकि शहद में हाइड्रोजन पेरोक्साइड और कवकनाशी होते हैं।  एक साफ कॉटन बॉल पर शहद लगाएं और इसे प्रभावित जगह पर लगाकर प्रभावित हिस्से को पूरी तरह से ढक लें।  दाद के चले जाने तक इसे रोजाना इस्तेमाल करें।

 2) एलोवेरा| AloeVera

एलोवेरा फंगल इंफेक्शन को रोकने में काफी कारगर तत्व है।  एलोवेरा खुजली, दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है।  यह दाद, खुजली और अन्य लक्षणों को जल्दी से कम कर सकता है।  एलोवेरा की पत्तियों से जेल निकालकर सीधे प्रभावित जगह पर लगाएं।  दाद के खत्म होने तक एलोवेरा जेल को दिन में कई बार लगाएं। इससे काफी फ़ायदा मिलेगा।

18 Best Home remedies and Treatments for Skin Disease in Hindi

 3) लहसुन | Garlic

लहसुन में सभी स्वास्थ्य लाभ होते हैं।  लहसुन दाद की समस्या को दूर करने में भी काफी कारगर होता है।  लहसुन में मौजूद ऐंटिफंगल तत्व, अज़ोइन, विभिन्न प्रकार के फंगल संक्रमणों को ठीक कर सकता है।  कुचले हुए लहसुन की 1-2 कलियां अच्छी तरह से लें।  इसमें 3 बड़े चम्मच शहद और 3 बड़े चम्मच जैतून का तेल मिलाएं।  इस मिश्रण को त्वचा के प्रभावित हिस्से पर लगाएं और 1 घंटे के लिए छोड़ दें।  फिर, गर्म पानी से धोएं।  कम से कम 2 सप्ताह के लिए दिन में 2-3 बार मिश्रण का प्रयोग करें। इससे काफी फ़ायदा मिलेगा।

 4) तुलसी| Tulsi Leaves

तुलसी के पत्तों में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीफंगल तत्व होते हैं जो दाद के संक्रमण को फैलने से रोकते हैं।  यह दाद के लक्षणों को दूर करने में भी मदद करता है।  तुलसी के पत्ते खुजली और रैशेज से राहत दिलाते हैं।  इसके लिए तुलसी के पत्तों का रस प्रभावित जगह पर लगाना चाहिए।

 5) कच्ची हल्दी |Raw turmeric

कच्ची हल्दी का रस प्रभावित जगह पर लगाने से दाद या दाद की समस्या जल्दी ठीक हो जाती है।  हल्दी के मजबूत एंटीसेप्टिक और एंटीफंगल गुण दाद के संक्रमण को फैलने से रोकते हैं।

 6) जायफल | Nutmeg

जायफल के पाउडर को पानी में मिलाकर पेस्ट बना लें।  इस पेस्ट को दाद के स्थान पर लगाएं।  यह जल्दी ठीक हो जाएगा।  जायफल के एंटीसेप्टिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व दाद को ठीक करने में बहुत कारगर होते हैं।

7) लेमन-शुगर स्क्रब| Lemon Sugar Scrub

इस तरीके से मुंहासों के निशान जल्दी मिट जाते हैं।  एक नींबू को आधा काट लें, उसके आधे हिस्से पर आधा चम्मच चीनी मिलाकर त्वचा के प्रभावित हिस्से पर लगाएं और दस मिनट तक हल्के हाथों से मसाज करें।  फिर पानी से अच्छी तरह धो लें।  ऐसे में अगर आप इसे कुछ हफ़्ते तक नियमित रूप से इस्तेमाल करेंगे तो आपको मुंहासों की समस्या से निजात मिल जाएगी।

18 Best Home remedies and Treatments for Skin Disease in Hindi
image source :- http://www.canva.com

 8) नींबू का रस | Lemon Juice

नींबू का रस मुंहासों को ठीक करने में बहुत कारगर है। नींबू के रस में मौजूद विशेष तत्व त्वचा पर काले धब्बे हटाने में मदद करता है।  नींबू के रस को प्रभावित जगह पर लगाकर अच्छे से मसाज करें।  15-20 मिनट के बाद थोड़े गर्म पानी से धो लें।  अगर आप दिन में कम से कम दो बार इस तरह से मालिश करेंगे तो आपको जल्दी परिणाम मिलेंगे।

 9) टमाटर का रस | Tomato Juice

सबसे पहले एक बड़े और पके टमाटर से अच्छी तरह धोकर साफ कर लें।  फिर टमाटर को निचोड़कर त्वचा के प्रभावित हिस्से पर लगाएं।  फिर 15-20 मिनट तक हल्के हाथों से मसाज करें।  फिर पानी से अच्छी तरह धो लें।  इसका इस्तेमाल करने के बाद अगले कुछ घंटों तक साबुन का इस्तेमाल न करें।  अगर आप इस तरीके को एक दो दिन में कम से कम दो बार इस्तेमाल करेंगे तो मुंहासों के निशान काफी हद तक फीके पड़ जाएंगे और त्वचा की चमक भी बढ़ जाएगी।

 10) प्याज | Onion

प्याज में मौजूद एक्सफोलिएटिंग तत्व मुंहासों को ठीक करने में बहुत कारगर होता है।  एक बड़े प्याज को आधा काट लें और उसके आधे हिस्से को शरीर के प्रभावित हिस्से पर दिन में कम से कम दो बार मालिश करें।  जब तक त्वचा का रंग पीला न हो तब तक इसका इस्तेमाल करें।

Leprosy Disease: कुष्ठ रोग जैसे भयंकर बीमारी से बचने के बेहद आसान 15 घरेलू उपाय और उपचार अपनाएं और देखें परिणाम | Know about Leprosy Disease and 15 Best Home Remedies and Treatment To Cure it

 11) खट्टा दही | Curd

मुंहासों की समस्या से निजात पाने के लिए खट्टे दही का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।  खट्टे दही में मौजूद लैक्टिक एसिड मुंहासों को दूर करने में बहुत कारगर तत्व है।  टायरोसिनेस नामक एक एंजाइम शरीर में मेलेनिन और अन्य पिगमेंट की उपस्थिति के लिए जिम्मेदार होता है।  लैक्टिक एसिड एंजाइम टायरोसिनेस के अतिउत्पादन को रोकता है।  

नतीजतन, त्वचा के हाइपरपिग्मेंटेशन को रोक दिया जाता है।  कॉटन बॉल की मदद से 3 चम्मच खट्टा दही शरीर के प्रभावित हिस्से पर लगाएं और कम से कम 15 मिनट के लिए छोड़ दें।  फिर थोड़े गर्म पानी से अच्छी तरह धो लें।  अगर आप इसे दिन में 3-4 बार इस्तेमाल कर सकते हैं तो मुंहासों और रैशेज की समस्या के साथ-साथ मुंहासों की समस्या भी कम हो जाएगी।

12) वेजिटेबल मास्क | Vegetable Mask

खीरे के 2 टुकड़े और स्ट्रॉबेरी के 2 टुकड़े एक साथ लें और अच्छी तरह से निचोड़ लें।  इस बार इसमें जैतून का तेल मिलाएं।  इस मिश्रण को स्कैल्प पर लगाएं और सामान्य रूप से सुखाएं।  जब मिश्रण पूरी तरह सूख जाए तो ठंडे पानी से अच्छी तरह धो लें।  मुंहासों की समस्या से छुटकारा पाने और त्वचा की चमक बढ़ाने के लिए सप्ताह में कम से कम चार बार इस मास्क का प्रयोग करें।

13) चाय के पेड़ की तेल | Tea tree oil

टी ट्री के तेल मुंहासों अथवा पिंपल्स से छुटकारा पाने का एक बेहद अच्छा उपाय है।  टी ट्री ऑयल आपकी स्किन एलर्जी में भी काफी मददगार होगा । इसमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं, जो कई तरह की स्किन एलर्जी से राहत दिलाते हैं।  त्वचा में होने वाली लालिमा और खुजली से छुटकारा पाने के लिए टी ट्री ऑयल एक बेहतरीन विकल्प है।

14) सेब का सिरका | Apple Vinegar

सेब सिरके का इस्तेमाल आमतौर पर लोग वजन कम करने और पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए करते हैं।  लेकिन, यह वजन घटाने या पाचन के लिए न केवल एक बेहतरीन स्किनकेयर एजेंट है, बल्कि यह एक बेहतरीन स्किनकेयर एजेंट भी है।  इसमें एसिटिक एसिड होता है जो त्वचा में खुजली और एलर्जी के प्रभाव को कम करता है।

18 Best Home remedies and Treatments for Skin Disease in Hindi

15) एप्पल साइडर विनेगर : Apple Cider Vinegar

एक कप गर्म पानी में एक बड़ा चम्मच एप्पल साइडर विनेगर मिलाएं। अब इस मिश्रण को रूई की मदद से प्रभावित जगह पर लगाएं।  अब इसे सूखने के लिए छोड़ दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।  त्वचा की एलर्जी से छुटकारा पाने के लिए आप इसे दिन में कम से कम दो बार कर सकते हैं।

16) नारियल का तेल | Coconut Oil

त्वचा की देखभाल के लिए नारियल का तेल सबसे अच्छा तेल है।  इसमें मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो एलर्जी के मामले में त्वचा की रक्षा करते हैं।  इतना ही नहीं नारियल का तेल एलर्जी के कारण होने वाली खुजली को भी कम करता है।

17) एलोवेरा जेल | Aloe Vera Gel

एलोवेरा के औषधीय गुणों से तो हम सभी वाकिफ हैं।  एलोवेरा का इस्तेमाल कई तरह से किया जाता है।  कुछ लोग इसे जूस के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं।  यह त्वचा की एलर्जी से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा तरीका भी है। अगर आप एलर्जी के कारण त्वचा की खुजली और रूखेपन से परेशान हैं तो एलोवेरा के औषधीय गुण जलन और खुजली से जल्दी राहत दिलाते हैं।

18) बेकिंग सोडा | Baking Soda

त्वचा की एलर्जी से छुटकारा पाने के लिए आप बेकिंग सोडा का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।  बेकिंग सोडा किचन में पाई जाने वाली एक ऐसी चीज है, जो त्वचा की कई समस्याओं को दूर करती है।  अगर आप त्वचा की एलर्जी से परेशान हैं तो भी बेकिंग सोडा का इस्तेमाल किया जा सकता है, लेकिन इसका इस्तेमाल करते समय थोड़ी सावधानी बरतने की जरूरत है।  

यह त्वचा में पीएच संतुलन बनाए रखने में मदद करता है। त्वचा पर बेकिंग सोडा का इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले एक चम्मच बेकिंग सोडा लें और उसमें थोड़ा सा पानी मिलाएं। अब इसका एक स्मूद पेस्ट बनाएं और इसे एलर्जी वाली जगह पर लगाएं।  10 मिनट बाद इसे धो लें।  एलर्जी से छुटकारा पाने के लिए आप इसे दिन में 3 से 4 बार इस्तेमाल कर सकते हैं।

निष्कर्ष (Conclusion)

हमें इस बात की उम्मीद है कि skin disease ke gharelu upay kya hai in Hindi आर्टिकल में हमने इस विषय में संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई है। Skin disease से छुटकारा पाने के बारे में आपको हमारे आर्टिकल में जो जानकारी मिली है, वह आपके लिए बेहद फायदेमंद होगी। यदि आप इस विषय से संबंधित कुछ प्रश्न पूछना चाहते हैं तो हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं या यदि आप किसी भी प्रकार के सुझाव देना चाहते हैं तो भी आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से अपने सुझाव व्यक्त कर सकते हैं।

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This