Ferium XT Tablet Kya Hai – उपयोग, फायदे, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट? | Ferium XT Tablet – Uses, Benefits, Precautions, Side effects in Hindi

Must Read

Sumit Singh
Sumit Singhhttps://www.goodswasthya.com
A B-Tech Graduate turned blogger. Sumit holds a Computer Engineering Degree and has been in love with blogging since his college days. He is a certified fitness trainer and nutritionist. He has also done an accredited course in Natural Medicine and Herbalism from the Hyamson Institute of Natural and Complementary Medicine. A fitness and trekking enthusiast. You might find him on your next weekend trip.

Ferium XT Tablet Introduction

यदि हमारे शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाए, तो इसके कारण बहुत सी बीमारियां हमारे शरीर को बेकार कर सकती हैं, क्योंकि बहुत से पोषक तत्व ऐसे होते हैं जिन की कमी के कारण हमारा शरीर ढंग से काम ही नहीं कर पाता, और इसी कारण हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम होने लगती है, परंतु यदि हम बचपन से ही पोस्टिक आहार का सेवन करें, और तले हुए तथा ज्यादा मसालेदार भोजन से अधिक दूर रहें तो फिर तो हमारे शरीर में पोषक तत्वों की कमी होती ही नहीं है।

परंतु आजकल की जीवनशैली कुछ ऐसी हो गई है, कि ज्यादातर लोग बाहर के खाने को ही खाना पसंद करते हैं, और इसी के कारण उनके शरीर में खून की कमी, आयरन की कमी तथा फोलिक एसिड आदि की कमी हो जाती है, परंतु आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से एक ऐसी दवाई के बारे में बताएंगे, जो आपके शरीर में काफी तरह की कमियों को पूरा करती है और उस दवाई का नाम Ferium XT Tablet है, आज हम इस आर्टिकल में Ferium XT Tablet के बारे में ही विस्तार से जानेंगे :-

Ferium XT Tablet In Hindi – What Is Ferium XT Tablet In Hindi?

Ferium XT Tablet आमतौर पर डॉक्टर के द्वारा मरीज को बहुत सी बीमारियों में दी जाती है, यह दवाई वैसे तो ज्यादातर महिलाओं को ही दी जाती है। परंतु पुरुषों को भी है दवाई दी जा सकती है या फिर बच्चों को भी दी जा सकती है पोषक तत्व की कमी को पूरा करने के लिए दी जाती है। जैसे कि यदि किसी के शरीर में आयरन की कमी हो जाती है या फिर गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को पोषक तत्वों की कमी हो जाती है, और बचपन में रक्त हीनता के उपचार तथा खून की कमी होने पर भी यह दवाई दी जा सकती है।

और फोलिक एसिड की कमी होने पर भी यह दवाई मरीज को काफी लाभ पहुंच जाती है, और भी बहुत सी बीमारियां हैं जिनमें दवाई इस्तेमाल की जा सकती है, जो कि हम आगे आपको बताएंगे परंतु इस दवाई का सेवन हमेशा डॉक्टर के निर्देश अनुसार ही करना होता है, क्योंकि इस दवाई के बहुत से साइड इफेक्ट भी देखे गए हैं जो कि जानलेवा साबित होते हैं।

Ferium XT Tablet की सामग्री – Active Ingredient In Ferium XT Tablet In Hindi?

इस दवाई में मुख्य रूप से Ferrous Ascorbate तथा Folic Acid और Vitamin B9 पाया जाता है, जोकि हमारे शरीर में विटामिन बी नाइन तथा फोलिक एसिड और अन्य पोषक तत्वों की कमियों को पूरा करते हैं।

Ferium XT Tablet कैसे काम करती है – How To Work Ferium XT Tablet In Hindi?

Ferium XT Tablet में कुछ एक्टिव इनग्रेडिएंट ( Active Ingredient )  होते  हैं जो न्यूक्लियोटाइड बायोसिंथेसिस ( Nucleotide Biosynthesis ) से लेकर होमोसिस्टाइन ( Homocysteine ) के पुनर विभाजन तक बहुत ही शारीरिक क्रियाओं के लिए आवश्यक होते हैं, यह काफी तेजी से हमारे शरीर में कोशिका विभाजन ( Cell Division ) तथा विकास की अवधि के दौरान विशेष ढंग से महत्वपूर्ण होते हैं, और बच्चों और व्यस्त को दोनों को ही स्वास्थ्य लाल रक्त कोशिकाओं (  Red blood Cells ) का उत्पादन करने के लिए और एनीमिया ( Anemia ) बीमारी को रोकने के लिए फोलिक एसिड प्रदान करते हैं।

Ferium XT Tablet Ke Fayde – Benefits Of Ferium XT Tablet In Hindi?

Ferium XT Tablet के बहुत से फायदे हैं जो कि इस प्रकार हैं :-

  • यदि किसी भी व्यक्ति के शरीर में लोहे की कमी होती है तो उस व्यक्ति या बच्चे को यह दवाई दी जा सकती है, क्योंकि यह दवाई बहुत जल्दी शरीर में आयरन ( Iron ) की कमी को भी पूरा करती हैं।
  • यदि किसी गर्भवती महिला को शरीर में किसी महत्वपूर्ण पोषक तत्वों की कमी हो जाती है, जैसे कि आयरन की कमी होना या फिर पोस्टिक मूल तो इस प्रकार की परिस्थिति में भी यह दवाई दी जा सकती है।
  • यदि किसी व्यक्ति या बच्चे के शरीर में खून की कमी हो जाती है, तो भी यह दवाई काफी ज्यादा फायदेमंद साबित होती है और डॉक्टर के द्वारा दी जा सकती है।
  • यदि कुछ छोटे बच्चों को बचपन में भोजन के पोषक तत्व नहीं मिल पाते, तो भी उन्हें यह दवाई दी जाती है ताकि भोजन के पोषक तत्व उन्हें भरपूर मात्रा में मिल सके।
  • यदि किसी भी व्यक्ति के शरीर में फोलिक एसिड की कमी हो जाती है, तो उस व्यक्ति को भी यह दवाई दी जा सकती है।
  • यदि छोटे बच्चों या फिर किसी व्यक्ति को भूख कम लगने की समस्या है, तो इस प्रकार की परिस्थिति में भी यह दवाई काफी फायदेमंद साबित होती है वह डॉक्टर के द्वारा दी जाती है।
  • गर्भावस्था के दौरान शरीर में ब्लड की आवश्यकता में वृद्धि होने पर भी यह दवाई महिला डॉक्टर के द्वारा गर्भवती महिला को दी जा सकती है।

Ferium XT Tablet कीखुराक – Dossage Of Ferium XT Tablet In Hindi?

Ferium XT Tablet एक ऐसी दवाई है जिसका इस्तेमाल सिर्फ डॉक्टर की देखरेख में ही किया जा सकता है, और आमतौर पर किसी अच्छे समझदार डॉक्टर के द्वारा ही यह दवाई दी जाती हैं, और इस दवाई की खुराक भी डॉक्टर के द्वारा ही निर्धारित की जाती है इसीलिए आप अपनी मर्जी से ही है, दवाई खरीद कर नहीं खा सकते क्योंकि इस दवाई के बहुत से साइड इफेक्ट भी होते हैं जो कि आपकी जान तक ले सकते हैं, इसीलिए इस प्रकार की दवाइयां खाने से पहले डॉक्टर से सलाह मशवरा कर लें तो बेहतर होगा।

Ferium XT Tablet का इस्तेमाल कैसे करें – How To Use Ferium XT Tablet In Hindi?

  • वैसे तो इस दवाई को इस्तेमाल करने का तरीका डॉक्टर आपको बता ही देता है। परंतु फिर भी हम आपको बता दें की यह दवाई आप भोजन के साथ या फिर भोजन के बाद भी खा सकते हैं वैसे तो इस दवाई का सेवन खाली पेट नहीं किया जाता, परंतु कुछ परिस्थितियों में डॉक्टर आपको खाली पेट सेवन करने के लिए बोल सकता है वह डॉक्टर के ऊपर ही निर्भर करता है।
  • इस दवाई का सेवन दूध तथा पानी के साथ किया जा सकता है, परंतु चाहे तथा कोल्ड ड्रिंक के साथ ही दवाई का सेवन ना ही करें तो बेहतर होगा।
  • डॉक्टर जब आपको यह दवाई लिख कर देता है, और आप कहीं बाहर से खरीदते हैं तो खरीदने से पहले इस दवाई की एक्सपायर डेट अच्छे से चेक कर लेनी चाहिए। क्योंकि कई बार एक्सपायर डेट की दवाई भी हम खरीद लेते हैं और हमें पता भी नहीं लगता इसीलिए दवाई खरीदने से पहले स्पाइरी डेट चेक करके लें। क्योंकि एक्सपेडिट दवाई खाने से हमें काफी नुकसान भी हो सकते हैं यहां तक कि आप कोमा में भी जा सकते हैं।

Ferium XT Tablet Ke Nuksan – Side Effect Of Ferium XT Tablet In Hindi?

इस दवाई के बहुत से साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं, और साइड इफेक्ट हमेशा तभी होते हैं जब हम किसी दवाई का ज्यादा मात्रा में सेवन करते हैं, या फिर गलत ढंग से सेवन करते हैं और इस दवाई के साइड इफेक्ट भी काफी खतरनाक हो सकते हैं जैसे कि :-

  • यदि आप फेरियम एक्सटी टेबलेट का सेवन अधिक मात्रा में कर लेते हैं, तो आपको पेट से जुड़ी समस्याएं भी हो सकती हैं, जैसे कि पेट फूल जाना या फिर दस्त लगना और कई मामलों में कभी भी हो सकती है।
  • फेरियम एक्सटी टेबलेट के नुकसान के रूप में आपको उल्टियां भी लग सकती हैं, और सिर्फ तथा चक्कर भी आ सकते हैं जिसके कारण आप एक जगह पर अपना ध्यान केंद्रित नहीं कर पाएंगे, क्योंकि इन परिस्थितियों में हमारा दिमाग कुछ समय के लिए काम करना बंद कर देता है, जिसके कारण हम अच्छे से ना तो सोच पाते और ना ही कुछ समझ पाते हैं।
  • फेरियम एक्सटी टेबलेट को यदि हम अधिक मात्रा में खा लेते हैं तो हमें मूत्र करते समय भी परेशानी हो सकती है, मतलब की मूत्र करते समय जलन हो सकती है या फिर मूत्र का रंग गहरा पीला आ सकता है।
  • कई लोगों में फेरियम एक्सटी टेबलेट के साइड इफेक्ट के रूप में चिड़चिड़ापन नींद ना आना, या फिर मुंह का स्वाद बेकार हो ना और बेचैनी जैसी समस्याएं भी देखी जाती हैं।
  • और यदि हृदय के रोगी इस दवाई का सही ढंग से सेवन नहीं करते तो उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है, जैसे कि उनके दिल की धड़कनें भी बढ़ सकती हैं जिसके कारण दिल का दौरा पड़ने की संभावना हो सकती है।
  • बहुत से लोगों में इस दवाई के साइड इफेक्ट त्वचा पर भी देखे गए हैं जैसे कि त्वचा का लाल होना या फिर तो अच्छा पर लाल चकते ( Rashes ) होना।

Ferium XT Tablet ओवरडोज की स्थिति में क्या करें – What to do in the event of an overdose of Ferium XT Tablet In Hindi?

यदि आप फेरियम एक्सटी टेबलेट का अधिक मात्रा में सेवन कर लेते हैं, तो आपको बिल्कुल भी देरी नहीं करनी चाहिए और तुरंत ही अपने नजदीकी किसी अच्छे डॉक्टर के पास जाना चाहिए, और उसे बताना चाहिए कि आपने फेरियम एक्सटी टेबलेट की ओवरडोज खाई है, और फिर वह डॉक्टर आपको जल्दी कुछ उपाय बता देगा जिससे कि आप साइड इफेक्ट से बच जाएंगे।

  • अगर किसी व्यक्ति को मधुमेह की समस्या है या फिर दवाई से एलर्जी है, तो वह व्यक्ति इस दवाई का सेवन ना करें क्योंकि उन्हें इस दवाई से साइड इफेक्ट हो सकता है।
  • यदि किसी व्यक्ति को शराब पीने की लत लगी हुई है, तो इस प्रकार के व्यक्तियों को भी फेरियम एक्सटी टेबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • जब आप डॉक्टर के पास किसी बीमारी के इलाज के लिए जाते हैं, तो उस समय आपको डॉक्टर को अपनी पिछली स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों के बारे में भी बताना चाहिए ताकि डॉक्टर उन सभी बीमारियों को मध्य नजर रखते हुए आपको दवाई दे सके, क्योंकि बहुत सी दवाइयां ऐसी होती हैं जो दूसरी बीमारियों की दवाइयों के साथ नकारात्मक प्रभाव डालती हैं।

किन बीमारियों में Ferium XT Tablet का सेवन नहीं करना चाहिए – What Diseases Should Not Be Consumed in Ferium XT Tablet In Hindi?

बहुत सी बीमारियां ऐसी भी होती हैं, जिनमें फेरियम एक्सटी टेबलेट का सेवन करना हानिकारक साबित हो सकता है जैसे कि :-

  • यदि किसी व्यक्ति को किडनी से संबंधित बीमारी है तो वह व्यक्ति इस दवाई का सेवन भूलकर भी ना करें। क्योंकि किडनी संबंधित बीमारियों में ही है दवाई जानलेवा साबित हो सकती हैं।
  • मधुमेह के रोगियों को भी यह दवाई नुकसान पहुंचा सकती है इसीलिए जब आप डॉक्टर के पास दवाई लेने जाते हैं, तो पहले ही डॉक्टर को बता देना चाहिए कि आपको मधुमेह भी है ताकि आपको डॉक्टर कोई और दवाई दे सके।
  • हाइपरटेंशन की समस्या में भी यह दवाई नहीं खानी चाहिए, डॉक्टर को पहले ही सूचित कर देना चाहिए।
  • लीवर तथा हृदय संबंधित बीमारियों में भी हमें डॉक्टर को पहले ही सूचित कर देना चाहिए। ताकि वह डॉक्टर आपको पिछली स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों को मध्य नजर रखते हुए दवाई दे सके।

Conclusion

हम उम्मीद करते हैं कि Ferium XT Tablet In Hindi से संबंधित हमारी यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी। इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको Ferium XT Tablet Ke Fayde तथा Uses Of Ferium XT Tablet In Hindi के बारे में बताया है, और इसके साथ-साथ हमने आपको How To Work Ferium XT Tablet In Hindi तथा Side Effect Of Ferium XT Tablet In Hindi के बारे में बताया है, यदि अब भी आपको Ferium XT Tablet Kis Kaam Aati Hai से संबंधित कुछ प्रश्न पूछना हो तो कमेंट सेक्शन में कमेंट आप कर सकते हैं। धन्यवाद !

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This