जानिए क्यों है Ginseng लोगों की पसंद । इससे होने वाले 11 लाभ , उपयोग , खुराक , साइड इफेक्ट्स और सावधानियां | What Is Ginseng its 11 best benefits, uses, and Side Effects in Hindi

Must Read

Jatin Dahiya
Jatin Dahiyahttp://goodswasthya.com
Jatin Dahiya is a professionally certified dietary expert having experience in dietary for more than 9 months and he has received a great number of excellent reviews. His main work includes making dietary charts for patients and people who are conscious of their diet and health. His hobbies include traveling, Netflixing, and playing football. He was a 3 time champion in table tennis in his college. He is well known for his good behavior and always eager to learn new things and increase his knowledge. जतिन दहिया एक प्रमाणित आहार विशेषज्ञ हैं, जिन्हें 9 महीने से अधिक समय से मरीजों के खान पान और डाइट चार्ट बनाने में अनुभव है और उन्हें बड़ी संख्या में उत्कृष्ट समीक्षाएं भी मिली हैं। उनके मुख्य कार्य में रोगियों के प्रति आहार और स्वास्थ्य के प्रति जागरूक लोगों के लिए आहार चार्ट बनाना शामिल है। उनके शौक में यात्रा करना, नेटफ्लिक्स करना और फुटबॉल खेलना शामिल है। वह अपने कॉलेज में टेबल टेनिस में 3 बार के चैंपियन थे। वह अपने अच्छे व्यवहार के लिए जाने जाते हैं और हमेशा नई चीजें सीखने और अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए उत्सुक रहते हैं।
What Is Ginseng In Hindi Table Of Content :-

जानिए क्यों है Ginseng लोगों की पसंद । इससे होने वाले 11 लाभ , उपयोग , खुराक , साइड इफेक्ट्स और सावधानियां | What Is Ginseng its 11 best benefits, uses, and Side Effects in Hindi

हजारों वर्षों से आयुर्वेद के द्वारा कई प्रकार की औषधियों का उपयोग लोगों के इलाज के लिए किया जाता है क्योंकि बहुत ही कुछ ऐसी औषधियां हैं जिनके उपयोग से भयानक से भयानक बीमारी में भी फायदा मिल सकता है आज हम आपको एक ऐसी ही औषधि का नाम बताने वाले हैं जोकि हमारे शरीर के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद हो सकती आयुर्वेद के द्वारा इस औषधि का बहुत ही ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है और इस औषधि का नाम है Ginseng इस औषधि के फायदे इतने ज्यादा हैं कि हम गिन भी नहीं सकते यह है हर एक रुप में हमें फायदा ही पहुंचाती है

Ginseng Kya Hai – What is Ginseng in Hindi?

आज हम इस पोस्ट के माध्यम से Ginseng Ke Fayde तथा Ginseng Ke Nuksan जानेंगे आप हमारी पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़िएगा क्योंकि Ginseng Ke Fayde Aur Nuksan कुछ ऐसे  हैं इसीलिए इसका सेवन करते समय हमें बहुत सी बातों का ध्यान रखना होता है चलिए अब हम जानते हैं How To Use Ginseng In Hindi

Ginseng Kya Hai – What is Ginseng in Hindi?

यदि आपको नहीं पता तो हम बता दें कि Genus Panax नामक पौधे की जड़ को Ginseng कहा जाता है। इसका स्वाद बहुत ही कड़वा होता है। पूरी दुनिया में जिनसेंग पौधे की करीब 11 प्रजातियां मौजूद हैं। वहीं यदि हम  इसके प्रकार की बात करें, तो मुख्य रूप से जिनसेंग पौधे के पांच प्रकार अधिक प्रसिद्ध हैं, जिनको एशियाई जिनसेंग, अमेरिकी जिनसेंग, साइबेरियाई जिनसेंग, भारतीय जिनसेंग तथा ब्राजील जिनसेंग के नाम से भी जाना जाता है। जिनसेंग एक आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, इसीलिए इसका इस्तेमाल करने से पहले आप एक बार डॉक्टर से सलाह अवश्य लें। चलिए अब हम Ginseng Ke Fayde जान लेते हैं।

Ginseng Ke Fayde In Hindi – Benefits of Ginseng in Hindi?

अब हम आपको बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं, कृपया करके अब आप हमारी पोस्ट को ध्यान से पढ़िएगा तभी आपको Ginseng Ke Fayde अच्छे से पता लग पाएंगे। और जिस तरीके से हम आपको इसका इस्तेमाल करने के लिए कहीं आपको बिल्कुल वैसे ही इस्तेमाल करना है।

1. शरीर में ऊर्जा का स्तर बढ़ाता है(Ginseng Increases Energy Levels in Your Body)

  • यदि हम जिनसेंग का सेवन करते हैं तो यह हमारे शरीर में एनर्जी बूस्टर का काम करता है, बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो बढ़ती उम्र के साथ साथ अपनी ऊर्जा का स्तर भी खो देते हैं जिसके कारण है पूरा दिन थके थके से रहते हैं और कोई भी काम है अच्छे से नहीं कर पाते यदि ऐसे लोग जिनसेंग का सेवन करते हैं तो वह अपने शरीर की कोई ऊर्जा को वापस प्राप्त कर सकते हैं।
  • आप जिनसेंग के पाउडर का सेवन भी कर सकते हैं, इसके अतिरिक्त आप अपनी ऊर्जा का स्तर बढ़ाने के लिए इसकी चाय बनाकर भी पी सकते हैं परंतु आपको दो बार से ज्यादा इसकी चाय नहीं पीनी नहीं तो आपको नुकसान हो सकता है।

यह भी पढ़े :- जानिए क्यों है Cardamom लोगों की पसंद । इससे होने वाले 9 लाभ , उपयोग , खुराक , साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

2. कैंसर के रोग में है लाभदायक(Ginseng helps to improve Cancer)

  • वैज्ञानिकों के द्वारा किए गए बहुत से शोध में यह पाया गया है कि जिनसेंग कैंसर की कोशिकाओं के साथ लड़ने में सक्षम है यदि आप जिनसेंग का सेवन करते हैं, तो यह आपको उम्र भर कैंसर के रोग से बचाए रखता है इसके साथ-साथ और भी होने वाली भयानक बीमारियों से यह आपके शरीर को बचाता है।
  • बढ़ती उम्र के साथ हमारे शरीर में कई प्रकार के रोग होने का खतरा बना रहता है इसीलिए बढ़ती उम्र के साथ साथ हमें जिनसेंग का सेवन जरूर करना चाहिए, इसके अतिरिक्त कैंसर भी करोगी भी इसका उपयोग कर सकते हैं परंतु कैंसर एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है इसलिए पहले आपको डॉक्टर से सलाह अवश्य लेनी चाहिए। जिनसेंग का सेवन आप चाय बनाकर भी कर सकते हैं इसके अतिरिक्त आप सुबह खाली पेट गर्म पानी के साथ इसका सेवन कर सकते हैं।

3. वजन घटाने में फायदेमंद(Ginseng helps you loose weight)

  • यदि आपके शरीर का वजन बढ़ा हुआ है तो आप जिनसेंग का सेवन भी कर सकते हैं, क्योंकि इसमें anti-obesity गुण पाए जाते हैं जो कि हमारे शरीर में जाकर हमारे बढ़े हुए वजन को नियंत्रित करते हैं इसके साथ-साथ यह हमारे शरीर में जमी हुई वसा की मात्रा को घटाते हैं जिसके कारण हमारे शरीर का वजन घटने लगता है इसीलिए वजन घटाने के लिए इसका सेवन जरूर करना चाहिए।
  • जिनसेंग का सेवन आप चाय के रूप में भी कर सकते हैं, इसके अतिरिक्त आप इसके पाउडर को सुबह खाली पेट गर्म पानी के साथ भी पी सकते हैं।
Ginseng Ke Fayde In Hindi - Benefits of Ginseng in Hindi?

4. डायबिटीज में लाभदायक(Ginseng is beneficial in Diabetes)

  • यदि डायबिटीज के रोगी जिंसेंग का सेवन करते हैं तो वह अपने बड़े हुए शुगर या फिर घटे हुए शुगर को नियंत्रित में कर सकते हैं अक्सर ऐसा होता है कि जब हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है तो उसके कारण हमें डायबिटीज की बीमारी होना आम बात है, ऐसे में यदि हम जिनसेंग से बनी हुई चाय का सेवन करते हैं या जिनसेंग के पाउडर को सुबह खाली पेट गर्म पानी के साथ पीते हैं तो इससे हमारे शरीर में शुगर की मात्रा नियंत्रित रहती है।
  • डायबिटीज के मरीजों को जिनसेंग का सेवन अवश्य करना चाहिए, क्योंकि NCBI के द्वारा किए गए बहुत से शोध में यह पता लगाया गया है कि इसके सेवन से डायबिटीज के रोगियों को बहुत ज्यादा लाभ मिलता हैं।

5. अल्जाइमर रोग में लाभदायक(Ginseng helps to Improve Alzheimer’s Condition)

  • अल्जाइमर एक ऐसा रोग है जोकि बुढ़ापे के साथ-साथ होना आम बात है अल्जाइमर रोग इस तरह का रोग है कि इसमें रोगी याददाश्त भूलने लगता है, अल्जाइमर के रोगियों को 10 या 15 मिनट से ज्यादा कुछ भी याद नहीं रहता वैसे तो यह बीमारी सिर्फ 55 से 60 साल की उम्र के बाद ही होती है परंतु कुछ लोगों को यह बीमारी पहले से भी हो सकती है।
  • अल्जाइमर के रोगियों को जिनसेंग का सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि यह हमारे शरीर में जाकर हमारी याददाश्त को मजबूत बनाता है, यदि आप इसका सेवन 30 से 45 दिन तक करते हैं तो आपको अल्जाइमर रोग में बहुत ज्यादा आराम मिलेगा आपकी खोई हुई याददाश्त भी वापस आने लगेगी।

6. तनाव मुक्त जीवन जीने में सहायक(Ginseng helps in reducing Stress)

बहुत लोगों को तनाव में रहने की आदत होती है और तनाव के कारण हमारे शरीर में बहुत सी बीमारियां भी हो सकती है यदि आपको बहुत ज्यादा तनाव है तो तनाव के समय में आप जिनसेंग से बनी हुई चाय का सेवन जरूर करें, इसके सेवन से आपको तनाव में बहुत ज्यादा राहत मिलेगी क्योंकि जिंसेंग में एंटीबायोटिक तथा एंटीसेप्टिक गुण भी पाए जाते हैं जोकि हमें तनाव मुक्त जीवन जीने में फायदेमंद होते हैं।

7. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है(Ginseng Improves your Immunity)

  • जिनसेंग में काफी तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कि हमारे शरीर के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होते हैं यदि हम जिनसेंग का सेवन दिन में दो बार करते हैं तो इससे हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, और यदि आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होगी तो इसके कारण आपका शरीर उम्र भर रोगों से लड़ पाएगा इसीलिए आपको जिनसेंग का सेवन जरूर करना चाहिए।
  • हमारे शरीर में सब कुछ रोग प्रतिरोधक क्षमता के ऊपर ही निर्भर करता है, यदि आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी है तो आप किसी भी तरह का कोई भी काम करने में सक्षम होते हैं इसीलिए आपको जिनसेंग का सेवन चाय के रूप में या फिर काढे़ के रूप में जरूर करना चाहिए।

8. त्वचा के लिए लाभदायक(Ginseng is good for your Skin)

  • जिनसेंग में एंटी एजिंग गुण पाए जाते हैं जोकि हमारे शरीर की त्वचा के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होते हैं, यदि आपके चेहरे पर झुरिया पड़ी हुई है या फिर आपकी त्वचा रूखी रूखी सी रहती है तो आपको जिनसेंग का सेवन जरूर करना चाहिए।
  • वैज्ञानिकों के शोध के मुताबिक यह हमारी त्वचा को जवान बनाने में सहायक है, इसके साथ साथ यह बेजान त्वचा में बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है और यदि कुछ महिलाओं को फुंसियों की बहुत ज्यादा दिक्कत रहती है तो उन्हें भी इसका सेवन जरूर करना चाहिए।

9. सूजन में फायदेमंद(Ginseng is Anti Inflammatory)

  • जिंसेंग में anti-inflammatory गुण पाए जाते हैं जोकि हमारे शरीर के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होते हैं, यदि आपके शरीर के किसी भी हिस्से पर सूजन है तो आपको घरेलू नुस्खे के रूप में इसका सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि यह पुरानी से पुरानी सूजन को हटाने में भी लाभदायक है।
  • बुढ़ापे के कारण कुछ लोगों को अक्सर घुटनों से संबंधित रोग हो जाते हैं, जिसके कारण उनके घुटनों में काफी सूजन भी रहती है यदि वह जिनसेन का सेवन करें तो उन्हें सूजन की समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

10. फेफड़ों के लिए लाभदायक(Ginseng Cleans your Lung)

जिंसेंग में anti-inflammatory गुण पाए जाते हैं जो कि हमारे फेफड़ों को साफ करने का भी कार्य करते हैं, यदि हम जिनसेंग का सेवन सुबह खाली पेट चाय के रूप में या फिर काढे़ के रूप में करते हैं तो यह हमारे फेफड़ों को बिल्कुल साफ रखता है, जिसके कारण आपको फेफड़ों से संबंधित बीमारी होने का खतरा बिल्कुल कम हो जाता है।

11. बालों के लिए फायदेमंद(Ginseng stops Excess Hair Falls)

जिनसेंग में Ginsenosides गुण पाए जाते हैं जो कि हमारे बालों के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होते हैं, यदि किसी भी व्यक्ति के या महिला के बाल बहुत ज्यादा झड़ ते हैं या फिर बालों से संबंधित कोई भी समस्या है तो उन्हें का सेवन जरूर करना चाहिए।

Ginseng Ka Upyog Kaise Kare – How to Use Ginseng in Hindi?

  • जिनसेंग का सेवन आप चाय के रूप में भी कर सकते हैं, और इस से बनी चाय का सेवन आप दिन में दो बार कर सकते हैं।
  • जिंसेंग के पाउडर को आप कॉफी में मसाले की तरह डाल कर भी इसका सेवन कर सकते हैं।
  • जिनसेंग को आप कैप्सूल के रूप में भी ले सकते हैं, इसके अतिरिक्त साथ इससे बना काढ़ा भी पी सकते हैं।

Note : आपको सिर्फ जिनसेंग का सेवन 2 से 3 ग्राम की मात्रा में ही करना है, और पूरे दिन में आप ज्यादा से ज्यादा दो से तीन बारी इसका सेवन कर सकते हैं।

Ginseng ke Nuksan In Hindi - Side Effects of Ginseng in Hindi?
image source :-https://www.canva.com/

Ginseng ke Nuksan In Hindi – Side Effects of Ginseng in Hindi?

  • यदि किसी व्यक्ति की किसी भी रोग की दवाई डॉक्टर के अनुसार चल रही है तो उसे इसका सेवन अपने आप ही नहीं करना चाहिए, उसको पहले डॉक्टर से सलाह मशवरा कर लेनी चाहिए नहीं तो आपके लिए परेशानी खड़ा कर सकता है।
  • गर्भवती महिलाएं तथा स्तनपान कराने वाली महिलाओं को जिनसेंग का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि उनके लिए यह परेशानी खड़ी कर सकता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर वाले रोगियों को जिनसेंग का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए, यदि भैंस का सेवन करना भी चाहते हैं तो उन्हें एक बार किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह अवश्य लेनी चाहिए अच्छे डॉक्टर का मतलब यह है कि उन्हें आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए क्योंकि यह एक आयुर्वेदिक औषधि है।

Ginseng Conclusion:-

उम्मीद करते हैं कि आपको हमारी यह पोस्ट बहुत ही पसंद आई होगी, हमने इस पोस्ट के माध्यम से आपको Ginseng Ke Fayde तथा Ginseng Ke Nuksan विस्तार से बताएं हैं इसके साथ-साथ हमने आपको यह भी बताया है, कि How To Use Ginseng In Hindi यदि अब भी आपको हमसे Ginseng Ke Fayde aur Nuksan से संबंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो, तो आप हमसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। धन्यवाद

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This