जानिए क्यों है Hibiscus (गुड़हल) लोगों की पसंद । इससे होने वाले 12 लाभ , उपयोग , खुराक , साइड इफेक्ट्स और सावधानियां |What is Hibiscus Flower Know its 12 Best Benefits Uses and Side Effects In Hindi

Must Read

Gagan Singla
Gagan Singlahttp://goodswasthya.com
He is a professional certified dietary expert with experience of more than 14 months. He is well known for his work in dietary scheduling for health-conscious people. His hobbies including traveling and Netflixing. He is good at sports and spent his most of the free time playing volleyball and cricket. His knowledge about dietary scheduling makes him the perfect scheduler. he loves to help people and patients with their post and pre-surgical dietary habits. वह 14 महीने से अधिक के अनुभव के साथ एक पेशेवर प्रमाणित आहार विशेषज्ञ है। वह स्वास्थ्य के प्रति जागरूक लोगों के लिए आहार निर्धारण में अपने काम के लिए जाना जाते है। यात्रा करना और नेटफ्लिक्सिंग उनके कुछ शौक हैं। वह खेलों में अच्छे है और अपना अधिकांश खाली समय वॉलीबॉल और क्रिकेट खेलने में बिताते है। आहार निर्धारण के बारे में उनका ज्ञान उन्हें पूर्ण अनुसूचक बनाता है। वह लोगों को उनके पोस्ट और पूर्व-सर्जिकल आहार आदतों को सुधरने और रोगियों की मदद करना पसंद करते हैं।
What Is Hibiscus In Hindi Table Of Content

जानिए क्यों है Hibiscus  (गुड़हल) लोगों की पसंद । इससे होने वाले 12 लाभ , उपयोग , खुराक , साइड इफेक्ट्स और सावधानियां |What is Hibiscus Flower Know its 12 Benefits, Uses and Side Effects In Hindi

आपने अक्सर सुना ही होगा कि बहुत से फूल ऐसे होते हैं जो हमारे लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होते हैं, आज हम आपको एक ऐसे ही फूल का नाम बताने वाले हैं जो कि आपके लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद साबित होगा और उसका नाम है, गुड़हल का फूल गुड़हल का फूल आपने अक्सर अपने आसपास देखा ही होगा और ज्यादातर हम इसको पूजा आदि के कार्यों में भी इस्तेमाल करते हैं, यदि वैज्ञानिकों की दृष्टि से देखा जाए तो गुड़हल के फूल में बहुत से ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं जो कि कई प्रकार की बीमारियों के साथ लड़ने में सक्षम है।

आज हम आपको हमारी इस पोस्ट में Gudhal Ke Fayde बताएंगे जिन्हें जानकर आप हैरान ही रह जाएंगे आपको पता ही है, कि जिस चीज के फायदे होते हैं तो उस चीज के नुकसान भी होते हैं इसलिए आज हम इस पोस्ट में Gudhal Ke Nuksan भी जानेंगे, और इसके अलावा हम आपको यह भी बताएंगे कि Gudhal Ka Upyog Kaise Kare और Gudhal Ke Phool Ke Fayde

Gudhal Kya Hai In Hindi - What is Gudhal in Hindi? | hibiscus leaves

Gudhal Kya Hai In Hindi – What is Gudhal in Hindi?

Gudhal ka phool  घंटाकार आकार के होते हैं। गुड़हल के फूल को बाग-बगीचे, घर तथा मंदिरों में लगाया जाता है। गुड़हल का फूल इकहरा, लाल, सफेद या सफेद लाल, बैंगनी, नारंगी आदि कई रंगों का होता है। इसकी केसर इसके पत्तों से बाहर निकली हुई होती है। सफेद, और सफेद तथा लाल रंग वाला गुड़हल फूल ज्यादा गुणकारी होता है।

Gudhal Ke Phool Ke Fayde – Benefits Of Gudhal In Hindi?

अब हम आपको Gudhal Ke Phool Ke Fayde बताने जा रहे हैं, और यह फायदे आपके लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक सिद्ध होने वाले हैं, इसीलिए आप हमारी पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़िएगा और जिस तरह हम इस्तेमाल के लिए कहीं बिल्कुल वैसे ही आपको इस्तेमाल करना है:-

1. नींद ना आने की परेशानी में है गुड़हल फायदेमंद(Hibiscus is good for Sleep)

  • बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिन्हें नींद ना आने की बीमारी होती है, अगर किसी को तीन से चार दिन हो गए हैं नींद आए तो यदि उसको फिर भी नींद नहीं आ रही तो इसका मतलब उसे नींद ना आने की बीमारी है अब ऐसे में नींद ना लेने के कारण व्यक्ति दिन भर थका थका रहता है और कुछ भी काम अच्छे से नहीं कर पाता यदि आप इस समस्या से छुटकारा लेना चाहते हैं।
  • तो आप 70 से 80 गुड़हल के फूल तोड़ कर इन्हें इकट्ठा कर ले उसके बाद इनका हरा भाग अलग करें और गुड़हल के फूल की पत्तियों को एक डब्बे में इन्हें डाल कर उसमें 5 से 6 नींबू का रस मिलाएं, उसके बाद इस डब्बे को पूरी रात किसी खुले स्थान पर रहने दीजिए।
  • फिर सुबह प्रातः काल इसमें आप 50 ग्राम मिश्री मिलाएं और काफी मात्रा में गुलाब जल में मिलाए जिससे कि आपका 250 से 300ml की कांच की शीशी भर के तैयार हो जाए उसके बाद इस कांच की शीशी को आप दो से 3 दिन लगातार धूप में रखें और इस सीसी को बंद रहने दे उसके बाद आपके पास एक दवाई की तरह सूची तैयार हो जाएगी रोज रात को आपको 15 से 20 Ml सोने से पहले इसका सेवन करना है, ऐसा करने से आपकी नींद ना आने की समस्या दूर हो जाएगी।

2. बालों के लिए काफी फायदेमंद(Hibiscus is really great for Hair)

  • यदि किसी भी महिला या व्यक्ति के बाल काफी अधिक झड़ते हैं या फिर बालों से संबंधित कोई और समस्या है, तो उनके लिए गुड़हल के फूल काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं, बालों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आपको गुड़हल के काफी सारे फूलों को पीसकर उनका पेस्ट बना लेना है, और उसके बाद इस पेस्ट को आप हफ्ते में दो बार अपने बालों में लगाएं और उसके बाद अपने बाल 2 से 3 घंटे सूखने दें जब बाल अच्छे से सूख जाए तो उसके पश्चात आप अपने बालों को शैंपू से धो लीजिए यदि आप नियमित रूप से ऐसा करते हैं, तो आपको बालों की समस्या से बहुत जल्दी निजात मिलेगी।
  • इसके अतिरिक्त एक नुस्खा और है और वह है कि आप गुड़हल के फूलों का काफी मात्रा में रस एकत्रित कर लें, और इस रस में बराबर मात्रा में जैतून का तेल मिलाकर इसे अच्छे से गर्म कर लें और जब भी आए ठंडा हो जाए तो उसके पश्चात इस तेल से बालों में मालिश करने से यह बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता है और आपको बालों की समस्या से निजात दिलाता है।

यह भी पढ़े :- जानिए क्यों है Chicory (कासनी) लोगों की पसंद । इससे होने वाले 9 लाभ, उपयोग, खुराक, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

  • इसके अतिरिक्त आप गुड़हल के फूल का पेस्ट बनाकर इसमें बराबर मात्रा में आंवला चूर्ण मिलाकर भी इस पेस्ट को अपने बालों में लगा सकते हैं, इस प्रकार भी आपके बालों को बहुत ज्यादा लाभ मिलेगा।

3. डैंड्रफ से छुटकारा दिलाता है(Hibiscus helps with Dandruff)

यदि आपके बालों में बहुत ज्यादा डैंड्रफ होता है जिसके कारण आप जो कपड़े पहनते हैं वह भी सफेद सफेद हो जाते होंगे, तो इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए आपको गुड़हल के फूलों का रस निकालना है और इस रस में बराबर मात्रा में तिलों का तेल मिला ले उसके पश्चात आप इसे अच्छे से उबाल नहीं फिर इसे छानकर रख लें और यदि आप इस तेल की मालिश हफ्ते में दो से तीन बार करते हैं तो आपको डैंड्रफ की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।

4. गंजेपन से छुटकारा दिलाता है(Hibiscus is good for Baldness)

  • यदि किसी व्यक्ति के माथे के ऊपर से धीरे-धीरे बाल उड़ रहे हैं या फिर उस व्यक्ति के बाल बहुत ज्यादा उड़ गए हैं, जिसके कारण वह गंजा सा दिखने लगा है, तो ऐसे व्यक्ति को गुड़हल के फूल का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि गुड़हल के फूल में कुछ ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं जो कि गंजेपन को दूर करते हैं।
Gudhal Ke Phool Ke Fayde - Benefits Of Gudhal In Hindi? | Hibiscus Ke Phool Ke Fayde - Benefits Of Hibiscus In Hindi?
  • गंजेपन को दूर करने के लिए आपको गुड़हल के फूलों को अच्छे से पीसकर का पेस्ट बना लेना है और इसमें थोड़ी मात्रा में गोमूत्र मिलाना है उसके पश्चात आपको इसे उस स्थान पर लगाना है जहां से आपके बाल उड़ चुके हैं या फिर धीरे-धीरे उड़ने लगे हैं, यदि आप रोज रात को या फिर दोपहर के समय इसे अपने बालों में लगाते हैं तो आपको गंजेपन से काफी जल्दी छुटकारा मिलेगा।

5. याददाश्त बढ़ाने में है फायदेमंद(Hibiscus improves your Memory)

  • गुड़हल का फूल हमारी याददाश्त बढ़ाने में काफी फायदेमंद होता है आपने अल्जाइमर रोग के बारे में तो सुना ही होगा अल्जाइमर रोग एक ऐसा रोग है, जिसमें रोगी अपनी याददाश्त बोलने लगता है यदि अल्जाइमर के रोगी गुड़हल के फूलों का सेवन करें तो वह अपनी खोई हुई याददाश्त काफी जल्दी वापस पा सकते हैं तथा अल्जाइमर रोग में भी उन्हें काफी फायदेमंद होगा।
  • का सेवन करने के लिए आप गुड़हल के फूलों को धूप में सुखा लें, और उसका पाउडर बना लें उसके पश्चात इस पाउडर को आप रोजाना दिन में दो बार दूध के साथ खाएं यदि आप प्रतिदिन ऐसा करते हैं तो 30 से 45 दिनों में आपको अपने अंदर बहुत ज्यादा असर दिखेगा इसके साथ-साथ आप छोटे बच्चों को भी इसका सेवन करवा सकते हैं, क्योंकि छोटे बच्चों को इसके सेवन से याददाश्त तेज करने में फायदा मिलेगा।

6. खून की कमी को दूर करता है(Gudhal | Hibiscus helps in Anaemia)

यदि आपके शरीर में खून की कमी है या फिर आप से संबंधित है, किसी भी व्यक्ति के शरीर में खून की कमी है तो ऐसे व्यक्तियों को गुड़हल के फूल का सेवन जरूर करना चाहिए, यदि ऐसे व्यक्ति गुड़हल के फूलों का पाउडर बना लें और इस पाउडर का सुबह शाम गर्म दूध के साथ सेवन करें तो वह अपने शरीर में खून की कमी को पूरा कर सकते हैं।

7. गर्भधारण रोकने के लिए फायदेमंद(Hibiscus Stops unwanted Pregnancy)

गुड़हल के फूलों में कुछ ऐसे गुण पाए जाते हैं जो कि गर्भधारण को रोकते भी हैं, यदि कुछ महिलाएं गर्भधारण नहीं करना चाहती तो वह गुड़हल के फूलों को अच्छी तरह पीटने और इसमें बराबर मात्रा में गुड मिलाएं उसके पश्चात दूध के साथ इसका सेवन करने से गर्भधारण नहीं होता।

8. शरीर की ऊर्जा बढ़ाने में फायदेमंद(Gudhal | Hibiscus makes you feel more energetic)

यदि आप पूरा दिन थके थके से महसूस करते हैं या फिर अपने शरीर में ऊर्जा का स्तर बढ़ाना चाहते हैं, तो आपको गुड़हल के फूलों का सेवन करना चाहिए गुड़हल के फूलों से शरीर की ऊर्जा बढ़ाने के लिए आपको गुड़हल के फूलों को छाया में सुखा लेना है उसके बाद इसका पाउडर बना लेना है और उस पाउडर को एक से 2 ग्राम की मात्रा में सुबह-शाम दूध के साथ सेवन करने से हमारा शरीर ऊर्जावान बनता है।

9. मुंह के छालों में है फायदेमंद(Mouth Ulcers can be controlled by Hibiscus)

यदि किसी व्यक्ति के मुंह में छाले पड़ गए हैं, तो उस व्यक्ति को गुड़हल के फूलों का सेवन करने से काफी लाभ मिल सकता है गुड़हल के फूलों से अपने मुंह के छाले ठीक करने के लिए आपको गुड़हल के 10 से 15 फूलों को पानी में अच्छे से पका लेना है, उसके बाद एक काढ़ा बनकर तैयार हो जाएगा और जब यह थोड़ा ठंडा हो जाए तो आप इस पानी से काफी देर कुल्ला कीजिए और इस पानी को कुल्ला करते वक्त ज्यादा से ज्यादा समय तक अपने मुंह में रखें यदि आप दिन में दो से तीन बार ऐसा करेंगे तो आपके मुंह के छालों में आपको काफी ज्यादा आराम मिलेगा।

10. पेट दर्द में है लाभदायक(Hibiscus helps in easing Stomach Pain)

यदि किसी भी व्यक्ति को रात के समय पेट दर्द हो जाता है, तो वह Pet Dard Ke Gharelu Nuskhe के रूप में गुड़हल के फूलों का एक से दो चम्मच रस पी सकता है इस प्रकार पेट दर्द में बहुत ज्यादा आराम मिलता है।

11. बुखार में है फायदेमंद(Hibiscus is beneficial in Fever)

  • यदि किसी भी व्यक्ति को रात के समय बुखार हो जाता है, तो वह Bukhar Ke Gharelu Nuskhe के रूप में गुड़हल के फूलों का सेवन कर सकता है गुड़हल के फूलों से बुखार को ठीक करने के लिए आपको गुड़हल के फूलों को काफी देर तक पानी में पकाना है, और जब यह अच्छे से उबलने लगे तो फिर इसको थोड़ी देर के लिए ठंडा होने देना है और उसके पश्चात एक काढा़ बनकर तैयार हो जाएगा आपको धीरे धीरे इस काढे़ को पीना है।
  • जैसी आप इसका डेको पिएंगे तो 30 से 45 मिनट के अंदर अंदर आप को बुखार में काफी राहत मिलेगी जरूरी नहीं है आपको इसका सेवन रात को ही करना है, यदि दिन में भी कभी बुखार हो जाता है तो घरेलू नुस्खे के रूप में आप इसका सेवन बेझिझक कर सकते हैं।

12. खांसी जुखाम में है फायदेमंद(Hibiscus helps in Cough and Cold )

यदि आप Khansi Jukham Ka Gharelu Nuskha अपनाना चाहते हैं, तो आप गुड़हल के फूलों का सेवन भी कर सकते हैं गुड़हल के फूलों से खांसी जुखाम ठीक करने के लिए आपको गुड़हल के फूलों से रस निकाल लेना है, और उसके पश्चात इस रस का सेवन आपको दिन में 3 से 4 बार करना है इस प्रकार आपको खांसी जुकाम में बहुत ज्यादा फायदा मिलेगा।

Gudhal Ke Nuksan - Gudhal Ke Side Effect In Hindi? | Hibiscus Ke Nuksan - Hibiscus Ke Side Effect In Hindi?
image source :- https://www.canva.com/

Gudhal Ke Nuksan – Gudhal Ke Side Effect In Hindi?

  • गुड़हल का सबसे बड़ा नुकसान तो यही है कि जो महिलाएं गर्भधारण करना चाहती हैं, वह गुड़हल के फूलों का सेवन किसी भी रूप में ना करें क्योंकि गुडहल का फूल गर्भ धारण करने से रोकता है।
  • जिन लोगों का शरीर ज्यादा ठंडा रहता है तो उन व्यक्तियों के लिए गुड़हल का सेवन काफी नुकसानदायक हो सकता है
  • यदि आप गुड़हल के फूलों का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं, तो इसके सेवन से आंखों में कीड़े पड़ने की संभावना भी रहती है, इसीलिए आपको इसका सेवन किसी भी रूप में दो से 3 ग्राम से ज्यादा नहीं करना।
  • यदि किसी व्यक्ति की किसी भी रोग की कोई दवाई चल रही है, तो उस व्यक्ति को गुड़हल के फूल का सेवन किसी भी रूप में नहीं करना चाहिए।

Gudhal or Hibiscus Conclusion :-

उम्मीद करते हैं कि आपको हमारी पोस्ट बहुत ही पसंद आई होगी, इस पोस्ट में हमने आपको Gudhal Ke Phool Ke Fayde तथा Gudhal Ke Phool Ke Nuksan बताए हैं जो कि आपके लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होंगे, यदि अब भी आपको Gudhal Ke Phool Ke Fayde Aur Nuksan से संबंधित कोई भी प्रश्न से पूछना हो तो कमेंट सेक्शन में आप पूछ सकते हैं। धन्यवाद

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This