जी स्पॉट आखिर है क्या? कहां स्थित है जी स्पॉट ? और जी स्पॉट को कैसे खोजे / उत्तेजित करे ? (What is G spot ? Where is G spot located? And how to find G spot/ stimulate it ? )

Must Read

जी स्पॉट आखिर है क्या? कहां स्थित है जी स्पॉट ?  और जी स्पॉट को कैसे खोजे / उत्तेजित करे ? (What is G spot ? Where is G spot located? And how to find G spot/ stimulate it ? )

सेक्सुअल ओर्गास्म टेंशन को दूर करने में और मूड को खुशनुमा बनाने में बहुत है कारगर है। किसी भी महिला और पुरुष के जीवन में सेक्सुअल ओर्गास्म का बहुत अहम रोल रहता है। लेकिन जब हम सेक्सुअल ओर्गास्म की बात करते है तो शोध में पता चला कि सिर्फ 18%  महिलाओं को ओर्गास्म सेक्स से होता है, सेक्स यानी के बिना किसी सेक्स खिलौने के, बिना मुंह का इस्तेमाल किए, बिना हाथ का इस्तेमाल किए।

जब हम देख रहे है कि बहुत है कम महिलाओं में ओर्गास्म सिर्फ सेक्स से होता है तो हमे उस चीज़ के बारे में जानना चाहिए जो ओर्गास्म को बढ़ा दे। अगर आपको योनि से ओर्गास्म नहीं हो पा रहा है तो हमे जी स्पॉट को समझने की ज़रूरत है।

जी स्पॉट आखिर है क्या? (What is G spot)

आपने जी स्पॉट के बारे में जरूर सुना होगा और ये भी सुना होगा कि इससे बहुत अच्छा ओर्गास्म होता है। लेकिन क्या ये सही है? क्या G Spot को खोजना इतना आसान है? जी नहीं ये काफी मुश्किल है।

जी स्पॉट को ग्रफेनबर्ग स्पॉट भी कहा जाता है और ये डॉक्टर बेवर्ली विप्ले द्वारा खोज गया था। उनका मानना था कि जी स्पॉट वो चाभी है जिससे कि महिलाओं को सेक्स के दौरान ओर्गास्म दिया जा सकता है।

G Spot वाजिना के अंदर पाया जाने वाला एक छोटा सा क्षेत्र है। जी स्पॉट वाजिएना के 2 इंच अंदर आपके पेट की तरफ पाया जाता है। ये छूने पर थोड़ा उत्तेजित और उभरा हुए लगता है। ये बहुत ही सेंसिटिव होता है और सेक्सुअल उत्तेजना के दौरान थोड़ा बड़ा हो जाता है या यू कह ले की थोड़ा सुजता है।

शोध के दौरान कुछ महिलाओं ने बताया के उन्हें जी स्पॉट को उत्तेजित करने से ओर्गास्म का एहसास होता है तो कुछ इससे स्खलित होती है।

जैसे कि हमने बताया की G Spot खोजना कोई आसान काम नहीं है क्यों के ये कोई बिंदु या स्पॉट नहीं है बल्कि ये क्लोटरिस का वह क्षेत्र है जो उत्तेजित होने पर सनसनी पैदा करता है। बहुत से लोग को यह नहीं पता कि जी स्पॉट कोई एक खास स्थान नहीं और ये हर महिलाओं में अलग होता है।

महिलाओं में क्लिटरिस ओर्गास्म और जी स्पॉट ओर्गास्म अलग अलग महसूस होता है। दोनों है तरह के ओर्गास्म के लिए दिमाग अलग अलग भाग का इस्तेमाल करता है और दोनों के मज़े अलग होते है। जहां जी स्पॉट ऑर्गन में महिलाए अपनी पेल्विक फ्लोर की मासपेशियों में झटका या उत्तेजना महसूस करती है तो वहीं क्लिटरिस ओर्गास्म में वो योनि द्वार को फैलता हुए देखती है जिससे के सेक्स में आसानी होती है।

कहां स्थित है जी स्पॉट ? (Where is g spot located)

जी स्पॉट आपको वेजिना से दो से तीन इंच अन्दर ऊपर की तरफ होता है।

अगर आप G Spot को खोजना चाहते है तो सब से पहले अपनी वेजिना को अपनी उंगलियों से स्लाइड करे और जब वो उत्तेजित हो जाए तो उंगलियों को वेजिना के अंदर 2 से 3 इंच ले जाए, फिर अपनी उंगलियों को ऊपर की तरफ मोड़ ले और वाजिणा के ऊपरी हिस्से को स्लाइड करे। जी स्पॉट इसी जगह आपको मिल जाने कि संभावना है।

जी स्पॉट को कैसे खोजे / उत्तेजित करे ? (How to find g spot/ stimulate it)

जी स्पॉट को खोजना थोड़ा मुश्किल है, क्यूकी इसको खोजना का कोई एक खास तरीका नहीं है। लेकिन इसका यह मतलब कतई नहीं है की जी स्पॉट को खोजना नामुमकिन है। जी स्पॉट को अपने  पार्टनर् के साथ सेक्स के दौरान खोजने के बजाय इसे खुद से खोजने कि कोशिश करे।

अगर आप G Spot को खोज रहे हैं तो सबसे पहले आप अपना मूड ठीक करें या फिर आप तब जी स्पॉट खोजें जब आप पूरी तरीके से रिलैक्स हो। अपने बॉडी को अच्छी तरीके से एक्सप्लोर करें, जो आपको अच्छा लगे आप वह करें और जब आप उत्तेजित हो जाएं तो धीरे धीरे अपनी उंगलियों को या फिर सेक्स खिलौने को अपनी वाजीना में डाले।

फिर अपनी उंगलियों या सेक्स खिलौने को वजिना में डालकर ऊपर की तरफ यानी पेट की तरफ से थोड़ा स्लाइड करे। इस बात का ध्यान रखे की आप किसी खास चीज की खोज में नहीं है, बल्कि आप वो करते जाए जिसमें आपको मज़ा आ रहा हो ताकि आप जी स्पॉट को खोज सके। धीरे धीरे आप वहीं उंगलियों को वेजिना के ऊपरी हिस्से में सहलाते रहे और उसी एरिया में अपना ध्यान दे और सेंसेशन को फील करे।

शोध में पाया गया है कि G Spot को खोजने का कोई खास तरीका नहीं है बल्कि आप धीरे-धीरे खुद को एक्सप्लोर करके इसे खोज सकते हैं। काफी महिलाओं को जी स्पॉट खोजने में इसलिए भी दिक्कत होती है क्योंकि उस वक्त वह उत्तेजित नहीं होती है। तो आप जी स्पॉट तभी खोजें जब आप उत्तेजित हो।

जब आप उत्तेजित रहती है और आपका पार्टनर आपके जी स्पॉट को छूता  है, तो आप काफी सुखद महसूस करेंगे। अगर आपको खुद से उत्तेजित होने में दिक्कत आ रही है तो अपने साथी के सहारे से जी स्पॉट खोजने की कोशिश करे।

ज़रूरी नहीं कि हर महिला को G Spot से ही ओर्गास्म हो और ये चीज बहुत ही नॉर्मल है। एक बात याद रखे की हस्तमैथुन काफी नॉर्मल है और किसी भी रिलेशनशिप का ये एक बेहतरीन हिस्सा है। अगर आप खुद को एक्सप्लोर करते हैं तो आप अपने पार्टनर को सेक्स के दौरान बता सकते हैं कि क्या चीजों आपको ज़्यादा पसंद है और क्या नहीं।

जी स्पॉट को उत्तेजित करने के लिए सेक्स पोजिशन (Sex positions to stimulate G spot)

अगर आप जी स्पॉट की उत्तेजना सेक्स के दौरान फील करना चाहते है तो कुछ सेक्स पोजिशन ऐसे है जो बहुत है कारगर है। इन पोजिशन को ट्राई करने से आपको जी स्पॉट उत्तेजित होने के ज़्यादा संभावना रहती है। बहुत सारी और भी सेक्स पोजिशंस है जिससे के जी स्पॉट उत्तेजित होता है लेकिन हम सबसे बेहतरीन तीन पोजिशन के बारे में आपको बताते है :

काऊगर्ल पोजिशन (Cowgirl position) :

अपने पार्टनर को पीट के बल लेटा दे और आप उनके ऊपर आ जाए। अब आप अपने हिसाब से मूवमेंट करे , इससे आप गहराई और अलग अलग एंगल ट्राई कर सकते है ताकि आपको जी स्पॉट खोजने में आसानी हो।

इस पोजिशन में आपका पूरा कंट्रोल होता है जिससे के आप अपने मन के हिसाब से एडजस्ट कर सकतें है और जी स्पॉट को उत्तेजित कर सकते है।

डॉगी स्टाइल पोजिशन (doggy style position) :

डॉगी स्टाइल पोजिशन भी एक बहुत ही बेहतरीन पोजिशन है जिससे कि आपको जी स्पॉट को उत्तेजित करने में मदद मिलती है।

इस पोजिशन में आप अपने हाथो और घुटनों के बल पर रहेंगी और आपका साथी आपके जी स्पॉट को हिट करने की कोशिश करेगा। इस पोजिशन में एंगल बदल-बदल कर आप जी स्पॉट को खोज सकते है। जब आपका साथी प्रवेश करे तो अलग-अलग एंगल ट्राई करे जिससे के जी स्पॉट का पता चल सके। इसी तरीके से एंगल बदले रहे जब तक जी स्पॉट हिट ना हो जाए।

क्लोज्ड मिशनरी पोजीशन (closed missionary position) :

ये पोजिशन क्लासिक मिशनरी का दूसरा रूप है। इसमें आप पीठ के बल लेट जाती है और आपका साथी आपके पैरों के बीच अपने पैर को रखता है। उसके बाद आपका साथी प्रवेश करता है और वरिएशन के साथ वेजिना में प्रवेश द्वार को हिट करता है जिससे के आपके जी स्पॉट ओर्गास्म होने के संभावना बढ़ जाती हैं।

वो करे जिसमें आपको मज़ा आए (Do what makes you happy)

जैसा कि हम फिल्मों के देखते है कि सेक्स काफी रोमांटिक होता है, लेकिन असल ज़िन्दगी में महिलाओं से ये कहा जाता है कि सेक्स बहुत है शर्मनाक चीज है, जिसके वजह से वो सेक्स के बारे में बात करने से शर्माती है और उनको ओर्गास्म नहीं हो पाता है जिसके वजह से वो संतुष्ट नहीं हो पाती है।

लेकिन महिलाओं को अपनी सेक्स लाइफ अपने नियमों पर गुजारनी चाहिए, और वो करना चाहिए जो उन्हें पसंद है। अगर आपको अपना जी स्पॉट मिल जाता है तो ये बहुत अच्छी बात है लेकिन अगर नहीं भी मिलता है तो उसमें भी कोई परेशानी कि बात नहीं है।

कोई ऐसा नियम नहीं है कि सिर्फ G Spot से है ओर्गास्म होता है, ज़्यादातर महिलाए संतुष्टि के लिए कई दूसरे तरीके का इस्तेमाल करती है। तो आप सोचते के लिए समय ले  कि आपको किस में मज़ा आता है और वही करे जो आपको सब से ज़्यादा सुख दे।

सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि आप संतुष्ट हो। अपनी बॉडी को एक्सप्लोर करना और अपने आपको जानना आपको खुश रखने के लिए बहुत ज़रूरी है, जिससे के आप अपनी सेक्स लाइफ में शंतुष्टि महसूस कर पाएंगी। कभी भी कुछ नया ट्राई करने या अपने सेक्स के बारे में अपने पार्टनर को बताने में ज़रा भी ना हिचकिचाए, क्युकी एक अच्छा सेक्स आपके जीवन में हर्ष और उल्लास पैदा करता है।

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This