Hexigel Cream Kya Hai – उपयोग, फायदे, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट? | Hexigel Cream – Uses, Best Benefits, Precautions, Side effects in Hindi

Must Read

Dr. Puneet Boora
Dr. Puneet Boorahttp://goodswasthya.com
Dr. Puneet Boora holds a Doctorate in Pharmacy (Pharm D) degree and have at least 1.5 years of writing experience in Health and Medicine related domains. He was a former writer for pharma magazines and articles. His hobbies including cricket, table tennis, and other sports. He is well known for his work in medicine dispensing and medical checkups. He prefers his work more and always tries to learn new therapeutic ways of medication dispensing. डॉ. पुनीत बोरा के पास फार्मेसी में डॉक्टरेट (फार्म डी) की डिग्री है और स्वास्थ्य और चिकित्सा से संबंधित डोमेन में कम से कम 1.5 वर्ष का लेखन अनुभव है। वह फार्मा पत्रिकाओं और आर्टिकल्स के पूर्व लेखक थे। क्रिकेट, टेबल टेनिस और अन्य खेल खेलना उनका शौक है। वह दवा वितरण और चिकित्सा जांच में अपने काम के लिए जाने जाते हैं। वह अपने काम को अधिक पसंद करते हैं और हमेशा दवा वितरण के नए चिकित्सीय तरीके सीखने की कोशिश करते हैं।

Hexigel Cream Kya Hai – उपयोग, फायदे, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट? | Hexigel Cream – Uses, Benefits, Precautions, Side effects in Hindi

  • आज कल मुंह में छाले या किसी प्रकार का संक्रमण होना आम बात है और बच्चों में ये संक्रमण और तेज़ी से फैलते है ये संक्रमण मुंह में यीस्ट द्वारा इन्फेक्शन से होते हैं। संक्रमण के दौरान गाल तथा जीभ के आंतरिक भागों में लाल लाल पैच बन जाते है जिनमें जलन व दर्द होता है। शुरुआत में इसके परिणाम ज्यादा घातक नहीं होते है और ये इलाज के साथ साथ ठीक हो जाते है पर अगर ये फैलते है तो कई सारी समस्याओं का कारण बन सकते है। ये आपके शरीर के कुछ कम प्रतिरक्षा क्षमता वाले अंगों को प्रभावित कर सकते है अतः इसका इलाज बहुत जरूरी है।
  • बाजार में मुंह में छाले या संक्रमण के लिए कई सारी दवा और ओरल जेल उपलब्ध होते हैं जो जलन व दर्द से राहत प्रदान करते है और संक्रमण को खत्म करते है है। आज हम एक ऐसे ही माउथ जेल के बारे में आपको बताने जा रहे है जिसका नाम है Hexigel Cream, ये माउथ जेल मुख्य रूप से मुंह के संक्रमण को रोकने के लिए डॉक्टर द्वारा सुझाया जाता है।

Hexigel क्या है? | What is Hexigel in Hindi?

Hexigel एक मुंह से संबंधित ओरल जेल है जिसे मुंह के छालों, मुंह में किसी प्रकार के संक्रमण आदि को खत्म करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है। ये एक ओरल हाइजीन जेल है। जो मुंह में बैक्टीरिया को फैलने से रोकता है। और डेंटल प्लाक को भी फैलने से रोकता है। साथ ही इसका का प्रयोग मुंह के फंगल  इंफेक्शन को खत्म करने के लिए भी किया जाता है।

Hexigel की खुराक – Dosage Of Hexigel In Hindi?

किसी भी दवा की खुराक लेने से पहले अपने डॉक्टर का परामर्श जरूर लेना चाहिए। क्योंकि प्रत्येक मरीज का कैसे अलग हो सकता है और खुराक की मात्रा में भी अंतर हो सकता है।अगर आप किसी कारण Hexigel लगाना भूल जाते है और कुछ समय बाद आपको याद आता है तो उसी समय Hexigel लगा सकते है लेकिन अगर दूसरी बार मलहम को लगाने का समय हो रहा है तो मलहम को एक ही बार लगाए दो बार ना लगाए।

और पढ़ें – जानिए क्यों है Ginseng लोगों की पसंद । इससे होने वाले 11 लाभ , उपयोग , खुराक , साइड इफेक्ट्स और सावधानियां |

Hexigel कैसे काम करता है – How does Hexigel work?

Hexigel मसूड़ों में सूजन, मुंह में छाले आदि मुंह से सम्बन्धित संक्रमण के इलाज के लिए काफी आरामदायक दवा है जो मुंह मजबूती से पकड़ बनाकर मुंह से संक्रमण पैदा करने वाले कीटाणुओं को खत्म करके आपको आराम देती है। इंफेक्शन के साथ साथ यह मुंह की दुर्गंध को भी खत्म करता है। इन सभी के अलावा भी Hexigel कई और फायदे होते है।

Hexigel के दुष्प्रभाव – Side effect Of Hexigel  In Hindi?

हेक्सिजेल ज्यादातर दुष्प्रभाव समान्य होते है और इन दुष्प्रभावों के लिए डॉक्टर की सलाह लेने की भी आवश्यकता नहीं होती है है। ये साइड इफेक्ट्स इलाज के साथ साथ ठीक ही जाते है। लेकिन अगर ये साइड इफेक्ट्स समय के साथ ठीक ना हो तो आपको अपने डॉक्टर इसके बारे जरूर बात करनी चाहिए। शोध में Hexigel के निम्न साइड इफेक्ट्स पाए गए है –

  • हेक्सिजेल के उपयोग से कई बार लोगों में उनके स्वाद को लेकर दिक्कत पाई गई है।
  • मुंह में छाले होना हेक्सिजेल का एक गंभीर साइड इफेक्ट है।
  • हेक्सिजेल के नियमित उपयोग से आपके दांतों के रंग बदलाव हो सकता हैं।
  • सिरदर्द और कमरदर्द भी हेक्सिजेल के साइड इफेक्ट्स है।
  • अपच, मुंह सूखना आदि हेक्सिजेल के कुछ अन्य साइड इफेक्ट्स है।

और पढ़ें – जानिए क्यों है Garlic लहसुन लोगों की पसंद । इससे होने वाले 12 लाभ , उपयोग , खुराक , साइड इफेक्ट्स और सावधानियां|

किन बीमारियों में Hexigel का सेवन नहीं करना चाहिए – What Diseases Hexigel Should Not Be Consumed in, In Hindi?

Hexigel का उपयोग करने से पहले सलाह दी जाती है कि अगर आपको किसी प्रकार का संक्रमण या चर्म रोग है तो इसे इस्तेमाल ना करे क्योंकि इसके कुछ घातक परिणाम हो सकते है। लेकिन अगर आपके डॉक्टर इसके बावजूद भी आपको हेक्सिजेल लगने की सलाह देते है तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते है।

Hexigel का उपयोग करते समय सावधानियां – Some warnings and Precautions while using Hexigel Cream

Hexigel Cream Ka उपयोग करते समय या हेक्सिजेल का उपयोग से पहले कुछ ध्यान रखने योग्य बातें –

  • हेक्सिजेल क्रीम का इस्तेमाल करने बाद और इस्तेमाल करने से पहले अपने हाथो को अच्छे से धो लेना चाहिए।
  • इस दवा को मुंह में ना निगले।
  • किसी अन्य व्यक्ति को हेक्सिजेल का परामर्श देने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।
  • इस दवा को नाक या आंख में ना लगने दे
  • दवा को लेने से पहले अपने डॉक्टर को अपनी वर्तमान स्थिति के बारे में अवश्य बताएं।

Hexigel की सक्रिय सामग्री – Active ingredients of Hexigel

Hexigel में मुख्य रूप से दो प्रकार की सामग्री पाई जाती है –

  • क्लहोरेक्सिडाइन
  • ग्लूकोनेट

Hexigel को कैसे स्टोर करे – How to store Hexigel Cream in Hindi?

Hexigel को कमरे के तापमान पर रखना उचित माना जाता है इसको तेज गर्मी या सीधे धूप के संपर्क में आने से बचना चाहिए। हेक्सिजेल को बच्चों या जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न – Frequently asked questions about Hexigel in Hindi

क्या Hexigel का इस्तेमाल करते समय गाड़ी चलाना सुरक्षित है?

Hexigel  का इस्तेमाल करने के बाद आप गाड़ी चला सकते हैं क्योंकि इसके इस्तेमाल  से नींद या बेहोशी ऐसा महसूस नहीं होता है।

क्या Hexigel का सेवन सुरक्षित है?

Hexigel का सेवन बिलकुल सुरक्षित है लेकिन आपको इसके इस्तेमाल से पहले डॉक्टर का परामर्श अवश्य लेना चाहिए।

क्या Hexigel की आदत या लत लग सकती है?

सामान्य तौर पर  Hexigel की आदत या लत नहीं लगती है।

Hexigel का हृदय पर क्या प्रभाव पड़ सकता है?

आमतौर पर Hexigel हृदय पर कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं देखा गया है परंतु अगर आपको Hexigel के इस्तेमाल से हृदय संबंधी कोई दिक्कत होती है तो आप अपने डॉक्टर से अवश्य संपर्क करें।

Hexigel का लीवर पर क्या प्रभाव हो सकता है?

Hexigel का लीवर पर कोई प्रभाव नहीं होता है।

क्या स्तनपान कराने वाली महिलाएं Hexigel का इस्तेमाल कर सकती है?

स्तनपान कराने वाली महिलाएं अपने डॉक्टर की सलाह लेने के बाद Hexigel का इस्तेमाल कर सकती है। बिना डॉक्टर की सलाह के इसका इस्तेमाल ना करे।

क्या गर्भवती महिलाएं Hexigel का इस्तेमाल कर सकती है?

हां, लेकिन डॉक्टर की सलाह लेने के बाद।

क्या Hexigel का गुर्दे पर कोई दुष्प्रभाव होता है?

नहीं, Hexigel का गुर्दे पर कोई दुष्परिणाम नहीं है।

क्या घाव पर Hexigel का इस्तेमाल किया जा सकता है?

सूखे घाव या जीवाणु संक्रमण पर Hexigel का इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन इस्तेमाल से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

Hexigel का प्रयोग दिन में कितनी बार किया जाना चाहिए?

Hexigel का उपयोग दिन दो बार सामान्य बताया गया है लेकिन किसी किसी मरीज के लिए ये अलग भी हो सकता है अतः इस्तेमाल के पूर्व अपने डॉक्टर से अवश्य सलाह ले।

Hexigel या हेक्सिजेल का निष्कर्ष Conclusion:

हम आशा  करते है कि इस लेख में Hexigel के बारे में  हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आती होगी। अगर आपके पास इस लेख से सम्बन्धित या Hexigel से सम्बन्धित कोई प्रश्न है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते है। धन्यवाद।

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This