High Triglycerides क्या होता है जानिए इसके लक्षण, कारण एवं घरेलु उपचार | What is High Triglycerides in Hindi Its Symptoms, causes and Best Home Remedies?

Must Read

Jatin Dahiya
Jatin Dahiyahttp://goodswasthya.com
Jatin Dahiya is a professionally certified dietary expert having experience in dietary for more than 9 months and he has received a great number of excellent reviews. His main work includes making dietary charts for patients and people who are conscious of their diet and health. His hobbies include traveling, Netflixing, and playing football. He was a 3 time champion in table tennis in his college. He is well known for his good behavior and always eager to learn new things and increase his knowledge. जतिन दहिया एक प्रमाणित आहार विशेषज्ञ हैं, जिन्हें 9 महीने से अधिक समय से मरीजों के खान पान और डाइट चार्ट बनाने में अनुभव है और उन्हें बड़ी संख्या में उत्कृष्ट समीक्षाएं भी मिली हैं। उनके मुख्य कार्य में रोगियों के प्रति आहार और स्वास्थ्य के प्रति जागरूक लोगों के लिए आहार चार्ट बनाना शामिल है। उनके शौक में यात्रा करना, नेटफ्लिक्स करना और फुटबॉल खेलना शामिल है। वह अपने कॉलेज में टेबल टेनिस में 3 बार के चैंपियन थे। वह अपने अच्छे व्यवहार के लिए जाने जाते हैं और हमेशा नई चीजें सीखने और अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए उत्सुक रहते हैं।

High Triglycerides क्या होता है जानिए इसके लक्षण, कारण एवं घरेलु उपचार | What is High Triglycerides in Hindi Its Symptoms, Causes and Best Home Remedies in Hindi?

जब भी हमें  हृदय संबंधी बीमारियां होती हैं तो उन सभी हृदय संबंधी बीमारियों का कारण ज्यादातर ट्राइग्लिसराइड्स का बढ़ना (High Triglycerides) होता  है। इससे न ही सिर्फ हमारे शरीर में धमनियां Block होती है, अपितु Stroke का खतरा भी काफी ज्यादा बढ़ जाता है। चिकित्सक High Triglycerides को नियंत्रण में रखने की सलाह देते हैं।

मगर क्‍या आप यह भी जानते हैं कि ट्राइग्लिसराइड्स भी हमारे शरीर के यह बहुत जरूरी होता है और यह हमारे सी के लिए इसलिए जरूरी होता है ताकि  हमारा शरीर सही तरह से काम कर सके। बस हमको इसे नियंत्रण में करने की आवश्यकता होती है, यदि आप इसे अच्छे से नियंत्रण में कर लेते हैं तो उसके पश्चात आपके शरीर में बहुत सी बीमारियों का खतरा जीवन भर के लिए खत्म हो जाता है।

आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको यही बताएंगे कि High Triglycerides Ke Lakshan? Side Effect Of High Triglycerides In Hindi? High Triglycerides Me Kya Khana Chaiye? High Triglycerides Ko Kaise Kam Kare? How To Control High Triglycerides In Hindi? यदि आप इन सभी सवालों का जवाब अच्छे से जानना चाहते हैं, तो हमारी पोस्ट को आखिर तक पढ़ते रहिएगा।

Triglycerides Kya Hai – What is Triglycerides In Hindi?

ट्राइग्लिसराइड्स एक तरह का Fat होता है, जो हमारे शरीर के खून में पाया जाता है। हमारा शरीर इस वसा की मात्रा को यूज करके ऊर्जा पैदा करता है। अच्छी सेहत के लिए कुछ Triglycerides ज़रूरी हैं। परंतु इसकी High Triglycerides की ज्यादा मात्रा हमारे शरीर को नुकसान पहुंचा सकती है। ज्यादातर विशेषज्ञों कि मानें तो ट्राइग्लिसराइड्स ( Triglycerides ) के एक सीमा से ज्यादा बढ़ने पर हमारे शरीर में धमनियां ब्‍लॉक हो जाती हैं। जिसके कारण हमारी जान भी जा सकती है इसीलिए इसे नियंत्रण में करना हमारे यह काफी ज्यादा जरूरी होता है। आजकल की हमारी जीवनशैली इतनी बेकार है कि हम किसी न किसी रोग से ग्रसित हो ही जाते हैं।

High Triglycerides ke levels in Hindi

Triglycerides Ka Level Kitna Hona Chaiye ?

हमारे शरीर के रक्‍त में फैट के रूप में पाया जाने वाला Triglycerides भी हमारे शरीर कहैं। यह हमारे शरीर को ऊर्जा देने का काम करते हैं। पर Triglycerides की संतुलित मात्रा 150 से कम ही होनी चाहिए। जबकि 150-199 को Borderline पर माना जाता है। इससे भी अधिक होने पर मतलब 200-499 के बीच ट्राइग्लिसराइड्स का Level हाई माना जाता है। और ज्यादा High Value होने पर स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी खतरे भी हो सकते हैं।  मान लीजिए यदि इसकी संख्‍या 500 या उससे भी ज्‍यादा हो जाती है। तो आपकी जान बचने भी मुश्किल हो जाती है इसीलिए इसे नियंत्रण में करना काफी ज्यादा जरूरी होता है।

High Triglycerides Ke Nuksan – Side Effect Of High Triglycerides In Hindi?

अब हम आपको High Triglycerides के कारण होने वाले नुकसान के बारे में बताने जा रहे हैं, आप हमारी पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ते रहिएगा :-

  • यदि हमारे शरीर में इसकी मात्रा बढ़ जाती है। तो हमें हृदय संबंधी बीमारी होने का खतरा बहुत ही ज्यादा बढ़ जाता है।
  • इसके बढ़ने के कारण आपके शरीर में हाई ब्लड प्रेशर और हाई शुगर भी हो सकते है। और आपको पता ही है कि यदि आपके शरीर में हाई ब्लड प्रेशर रहेगा तो उसके कारण आपको बहुत सी बीमारियों का सामना भी करना पड़ सकता है
  • हमारे शरीर में Triglycerides की मात्रा बढ़ जाने पर हमारी आंखों के ऊपर भी बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है इसके बढ़ने के कारण हमारी आंखों की रोशनी धीरे-धीरे जाने लगती है। और इसके साथ साथ हमें मस्तिष्क से संबंधित बीमारियों का सामना भी करना पड़ सकता है, यहां तक कि हमें ब्रेन स्ट्रोक भी हो सकता है।
  • High Triglycerides के कारण हमारी कमर पर फैट जमा होने लगती है, और इसके साथ ही गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा भी हमारे शरीर में कम होने लगती है। और हमारे शरीर में मोटापा बढ़ने लगता है।
  • यदि Triglycerides का लेवल 500 से अधिक ऊपर चला जाता है, तो इसके कारण आपकी मृत्यु होने की संभावना 70% से ज्यादा हो जाती है।
  • इसके कारण हमें अचानक से हार्टअटैक भी आ सकता है, क्योंकि जब हमारे शरीर में ट्राइग्लिसराइड्स की मात्रा बढ़ जाती है तो यह है हमारे शरीर में Silent Heart Attack भी ला सकता है, इस प्रकार के हार्टअटैक में मरीज को सिर्फ हार्ट अटैक आने से कुछ ही मिनट पहले दर्द होता है, और इस स्थिति में ज्यादातर डॉक्टर हार्ट अटैक को नियंत्रण में नहीं कर पाते जिसके कारण मृत्यु हो जाती है।

High Triglycerides Ke Karan – Causes Of High Triglycerides In Hindi?

  • यदि आपके शरीर का वजन काफी अधिक बढ़ा हुआ है, तो उस कारण भी यह बीमारी आपको आसानी से हो सकती है, क्योंकि हमारे शरीर के वजन के बढ़ने के कारण हमारे शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा भी बढ़ने लगती है जिसके कारण वह हमारे शरीर में बेकार वसा की मात्रा एकत्रित करता है और हमारे पेट के साइडों में मांस जमा होने लगता है।।
  • यदि आपको थायराइड की बीमारी है, तो भी आप High Triglycerides की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • यदि आपको डायबिटीज है और आपके शरीर में डायबिटीज बिल्कुल भी नियंत्रण में नहीं रहती, तो यह भी इस बीमारी का ही कारण हो सकता है।
  • यदि आपको किडनी से संबंधित कोई बीमारी है या फिर आप काफी लंबे समय से किडनी की बीमारी से जूझ रहे थे, तो यह कारण भी High Triglycerides का हो सकता है।
  • यदि आप ज्यादा ही तला हुआ खाना खाते हैं, या फिर ज्यादा मसालेदार खाना खाते हैं जिसके कारण आपके शरीर में कुछ ज्यादा ही कैलोरी जमा हो जाती हैं, तो उस कारण भी आपके शरीर में High Triglycerides की समस्या आ सकती है
  • यदि आप शराब का सेवन बहुत ही अधिक करते हैं, तो यह भी इस प्रकार की समस्याओं को बढ़ावा देता है।
  • यदि कोई महिला गर्भनिरोधक गोली लेती है, तो उसके कारण भी High Triglycerides की समस्या हो सकती है।
  • यदि कोई भी व्यक्ति स्टेरॉइड का सेवन करता है, तो उस व्यक्ति को भी High Triglycerides की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

यह भी पढ़े घमौरिया या (Prickly heat) क्या है इसके लक्षण एवं बचाव सम्बन्धी सभी जानकारी हिंदी में 

High Triglycerides Ke Lakshan – Symptoms Of High Triglycerides?

वैसे तो डॉक्टरों के द्वारा इस बीमारी के कुछ खास लक्षण नहीं बताए जाते हैं, परंतु जो व्यक्ति कुछ ज्यादा ही तले हुए भोजन का सेवन करता है या फिर उसका वजन बढ़ा हुआ है या फिर वह कोई ऐसी नौकरी करता हो जहां पर वह सारा दिन बैठे रहे, तो इस प्रकार के लोगों को हर 2 महीने में इस बीमारी का चेकअप करा लेना चाहिए। इस बीमारी का चेकअप आप किसी भी लैबोरेट्री से ब्लड सैंपल के द्वारा करा सकते हैं यदि आप इस बीमारी को समय रहते नियंत्रण में कर लेते हैं तो आप स्वस्थ रह पाएंगे।

High Triglycerides symptoms in Hindi
image source :- https://www.canva.com/

High Triglycerides Ko Control Kaise Kare – How To Control High Triglycerides In Hindi?

अब हम आपको High Triglycerides को कंट्रोल करने के कुछ उपाय बताएंगे, इसीलिए आप अब हमारी पोस्ट को बिल्कुल ध्यान से पढ़िएगा, क्योंकि यह पोस्ट आपके लिए काफी लाभदायक है :-

पोषक आहार का सेवन करें

यदि हम किसी भी बीमारी से ग्रसित होते हैं, तो उसका सबसे बड़ा कारण हमारा खान-पान ही होता है इसीलिए सबसे पहले हमें अपना खाना पीना बदलना है, मतलब की हमें हमेशा पोषक आहार का सेवन करना चाहिए पोषक आहार जैसे की हरी सब्जियां और डालें तथा फलों का सेवन करना चाहिए, जिससे कि हमारे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है इसीलिए हमेशा पोषक तत्व का ही सेवन करें।

ज्यादा तला हुआ खाना ना खाएं

आपको कभी भी ज्यादा तला हुआ खाना नहीं खाना चाहिए या फिर बाहर का जंक फूड भी आपको नहीं खाना चाहिए, क्योंकि यदि आपके शरीर में Triglycerides की मात्रा बढ़ी हुई है तो उस परिस्थिति में तो आपको बिल्कुल भी ज्यादा तले हुए खाने का सेवन नहीं करना चाहिए।

नियमित रूप से एक्सरसाइज करें या फिर योगा करें

यदि आपको इस प्रकार की समस्या से लड़ना पड़ रहा है, तो आपको नियमित रूप से योगा करना चाहिए, क्योंकि योगा करने से आपको इस बीमारी में बहुत ही ज्यादा फायदा मिलेगा और योगा के साथ-साथ आपको सामान्य रूप से एक्सरसाइज भी करनी चाहिए और प्रातः काल ज्यादा से ज्यादा देर सैर पर जाना चाहिए। यदि आप नियमित रूप से यह जीवन शैली अपना लेते हैं तो आप बड़ी आसानी से High Triglycerides पर नियंत्रण कर सकते हैं।

अपने शरीर का वजन कम करें

आपको High Triglycerides की समस्या में अपने शरीर के वजन पर भी नियंत्रण रखना चाहिए। यदि आपके शरीर का वजन कुछ ज्यादा ही बड़ा हुआ है तो उसके कारण भी आपको इस बीमारी में और भी ज्यादा दिक्कतें हो सकती हैं या फिर यदि आपको यह बीमारी नहीं है तो भी आपको बढ़े हुए वजन के कारण यह बीमारी हो सकती है, इसीलिए अपने शरीर के वजन को नियंत्रण में रखें।

शराब तथा धूम्रपान का सेवन ना करें

आपको शराब तथा धूम्रपान का सेवन भी नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह भी आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं होता इसीलिए हर एक प्रकार के नशीले पदार्थ से अपने आप को बचाए रखें।

ग्रीन टी का सेवन करें

यदि आप इस बीमारी से ग्रसित हैं तो आपको रोजाना ग्रीन टी का सेवन अवश्य करना चाहिए। क्योंकि ग्रीन टी हमारी सेहत के लिए बहुत ज्यादा अच्छी होती है इसलिए आपको ग्रीन टी का सेवन जरूर करना चाहिए।

उचित मात्रा में पानी पिए

बहुत से लोगों के शरीर में पानी की कमी के कारण भी बहुत से रोग हो जाते हैं इसीलिए आपको अपने शरीर में पानी की कमी नहीं होने देना चाहिए क्योंकि यदि हम 7 से 8 लीटर पानी रोजाना पीते हैं, तो उसके कारण हमारे फेफड़े साफ होते रहते हैं, और हमारे शरीर में उपस्थित विषैले पदार्थ भी बाहर निकल जाते हैं इसलिए हमें पानी का सेवन उचित मात्रा में जरूर करना चाहिए।

high triglycerides and its Test in Hindi

लहसुन का सेवन करें

High Triglycerides की समस्या में आपको लहसुन का सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि लहसुन की मात्रा को नियंत्रण करने में काफी ज्यादा फायदेमंद होती है, यदि आप रोजाना सुबह खाली पेट कच्चे लहसुन की तीन से चार कर लिया चबा चबा कर खाए तो आपको इस समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएगा क्योंकि लहसुन हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर को बड़ी आसानी से नियंत्रित करती है और इसके साथ साथ बड़े हुए बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को भी हमारे शरीर में से घटाती है, इसीलिए हमें रोज सुबह खाली पेट कच्चे लहसुन का सेवन जरूर करना चाहिए। अगर आप लहसुन को कच्चा नहीं खा सकते तो आप इसे आग में भूलकर भी खा सकते हैं।

High Triglycerides Conclusion –

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारी यह पोस्ट बहुत ही पसंद आई होगी इस पोस्ट के माध्यम से अबे आपको बताया है कि High Triglycerides Ke Lakshan? Side Effect Of High Triglycerides In Hindi? High Triglycerides Me Kya Khana Chaiye? High Triglycerides Ko Kaise Kam Kare? How To Control High Triglycerides In Hindi? यदि अब भी आपको इससे संबंधित कोई भी प्रश्न हम से पूछना हो, तो आप कमेंट सेक्शन के द्वारा पूछ सकते हैं हम आपको उसका जवाब जरूर देंगे। धन्यवाद

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This