Calcimax P: कैल्सिमैक्स पी के उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट? | Calcimax P – Uses, Best Benefits, Dosage Precautions, Side effects in Hindi

Must Read

Dr. Nick Kumar Jaiswal
Dr. Nick Kumar Jaiswalhttp://goodswasthya.com
He is a professional blog writer for more than 2 years, he holds a degree in Doctorate in Pharmacy(Pharm D) with experience in medicine dispensing and medication ADRs. His interest in medicine makes him excellent in his research project. Now he prefers to write blogs about medications and diseases. His hobbies include football and watching Netflix. He loves reading novels and gain knowledge about more medication ADRs. He is very helpful in nature and you will often find him helping others in the treatment. डॉ जयसवाल 2 से अधिक वर्षों से एक पेशेवर ब्लॉग लेखक है, ये दवा वितरण और दवा एडीआर में अनुभव के साथ एक फार्म डी डिग्री होल्डर है। चिकित्सा में उनकी रुचि उन्हें अपनी शोध परियोजना में उत्कृष्ट बनाती है। अब वह दवाओं और बीमारियों के बारे में ब्लॉग लिखना पसंद करते हैं। उनके शौक में फुटबॉल और नेटफ्लिक्सिंग, उपन्यास पढ़ना और अधिक दवा एडीआर के बारे में ज्ञान प्राप्त करना शामिल है। वह प्रकृति में बहुत मददगार है और अक्सर आप इन्हे दूसरों की इलाज में मदद करते हुए देख पाएंगे ।

Calcimax p In Hindi : इस आर्टिकल के माध्यम से आप जानेंगे Calcimax p ke fayde, side effects और इसे उपयोग करने के आसान तरीके के बारे में।

Calcimax p एक ऐसी दवाई है जो काफी महत्वपूर्ण होती है एवं बीमारी को दूर करने के लिए इस दवाई को लेकर चिकित्सक सलाह भी दिए जाते हैं। ब्लड में लो लेवल कैल्शियम की समस्या के लिए आपने इस दवाई का कई बार प्रयोग किया होगा, लेकिन इस आर्टिकल के माध्यम से आप जानेंगे इसके विभिन्न महत्वपूर्ण पहलुओं के बारे में, जिसमें हमने Calcimax p Tablets से संबंधित जिन विषयों की आपको आवश्यकता है उसके बारे में जिक्र किया है।

यहां आपको इससे संबंधित सभी जानकारियां मिलेगी लेकिन इस बात का ध्यान रखना बेहद आवश्यक है क्योंकि अधिक समस्या होने पर चिकित्सक की सलाह अवश्य लें, ताकि भयावह संकटों से छुटकारा मिल सके। इस आर्टिकल के माध्यम से आप जिसके बारे में जानकारी चाहते हैं वह निम्नलिखित हैं –

• Calcimax p tablet full information in Hindi.

• Calcimax p kis bimari ke liye hai?

• Calcimax p tablet ke fayde kya hai?

• Calcimax p की खुराक और इसे इस्तेमाल करने के तरीके क्या है?

• Calcimax p में प्रयोग किए जाने वाली सामग्री।

• Calcimax p tablet ke side effects kya hai?

• Calcimax p के प्रयोग करने पर किन सावधानियों को बरतना आवश्यक है?

• Calcimax p दवाइयों के नकारात्मक प्रभाव क्या है?

• किन बीमारियों के होने पर Calcimax p का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए?

Calcimax p kya hai? | what is Calcimax p in Hindi?

Calcimax p kya hai? | What is Calcimax p in Hindi?

दोस्तों यदि आप Calcimax p टेबलेट के बारे में जानना चाहते हैं ,तो आइए हम आपको इसके विभिन्न तथ्यों के बारे में बताएंगे। Calcimax p Tablets से संबंधित संपूर्ण जानकारी के अंतर्गत हम आपको बता दें, कि यह एक ऐसी दवाई है जो मुख्य रूप से खून में लो कैल्शियम की समस्या के लिए प्रयुक्त होती है। जब रोज की डाइट से शरीर में कैल्शियम की जरूरत पूरी नहीं होती और कैल्शियम की कमी हो जाती है तब शरीर को सुचारू रूप से चलाने के लिए शरीर हड्डियों से कैल्शियम लेना शुरू कर देता है। 

जिससे हड्डियां कमजोर पड़ने लगती है। ऐसे में कैल्सिमैक्स पी दवा हड्डियों को स्ट्रांग करने में मदद करता है। इसके अतिरिक्त ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis), रिकेट्स (Rickets)और ओस्टोमोलेशिया (Osteomalacia) आदि समस्याओं के निवारण के लिए इस दवा का उपयोग किया जाता है। Calcimax p शरीर में कैल्शियम और फासफेट को उचित के बनाए रखने में भी मदद करती है।

कैल्सिमैक्स पी में कौन-कौन सी सामग्री प्रयुक्त होती है? | major ingredients of Calcimax p in Hindi

Calcimax p tablet ke fayde | Benefits of Calcimax p Tablets in Hindi

Calcimax p Tablets को तैयार करने के लिए कई महत्वपूर्ण सामग्रियों का प्रयोग किया जाता है जिसके तहत दवाई के बनने की प्रक्रिया पूर्ण होती है। कैल्सिमैक्स पी बनाने की सामग्रियां निम्नलिखित है –

•कैलशियम (Calcium)

•फास्फोरस (Phosphorus)

•मैग्निशियम (Magnesium)

•जस्ता (Zinc)

•विटामिन D3 (vitamin D3)

Calcimax p टेबलेट एवं इसके विभिन्न पहलुओं की संपूर्ण जानकारी | full information about Calcimax p tablets in Hindi

Calcimax p tablets एक ऐसी दवाई है जिसका संपूर्ण जानकारी होना बेहद आवश्यक है अन्यथा आधी अधूरी जानकारी लेकर इसका ग़लत सेवन करने से यह स्वास्थ्य के लिए घातक साबित हो सकता है।

जैसा कि हम जानते हैं कि खून में कैल्शियम की कमी या फिर हड्डी संबंधी समस्या हड्डी संबंधी कोई समस्या होती है तभी इस दवा का प्रयोग किया जाता है। इसलिए हमें सही रूप से इसका सेवन करना चाहिए। इसका उपयोग आप  चिकित्सक से सलाह लेकर ही करें। Calcimax p टेबलेट और सिरप दो रूपों में आता है।

टेबलेट का सेवन आप खाने के बाद पानी के साथ कर सकते हैं। उचित होगा कि आप डॉक्टरी सलाह से ही इसका उपयोग करें और यदि आप इस दवा के सिरप को यूज कर रहे हैं तो आप उसे पहले अच्छी तरह से हिला लें, उसके बाद ही उसकी खुराक लें। डॉक्टर ने जिस मात्रा में टेबलेट या सिरप के डोज को बताया है उसे उसी मात्रा में उपयोग करें।

Calcimax p दवा के साथ अन्य कैलशियम सप्लीमेंट दवा उपयोग नहीं करना चाहिए। यदि आप इसके साथ किसी अन्य दवा को ले रहे हैं तो इसकी जानकारी अपने डॉक्टर को अवश्य दें। क्योंकि यह कुछ दवाइयों के साथ रिएक्शन करता है और इसके साइड इफेक्ट भी होते हैं।

कई ऐसे रोग होते हैं जिसमें आपको इस दवा के सेवन से पहले डॉक्टर को सूचित करना आवश्यक होता है। साथ ही इस दवा के अधिक मात्रा लेने से शरीर में कैल्शियम का स्तर बढ़ जा सकता है, जिससे शरीर में बीमारियों का खतरा होता है।

Calcimax p tablet ke fayde | Benefits of Calcimax p Tablets in Hindi

जैसा कि हम सभी जानते हैं किसी भी प्रकार की आम समस्या होने पर हम स्वयं दवाइयां ढूंढते हैं परंतु हमारे स्वास्थ्य के लिए यह आवश्यक होता है कि हम चिकित्सक सलाह लें। इसके पहले हम आपको बता दें Calcimax p Tablets किसी भी प्रकार से हानिकारक दवाई नहीं है बल्कि इसके कई फायदे हैं और चिकित्सक भी इससे जुड़े सलाह देते हैं। Calcimax p Tablets ke fayde निम्नलिखित हैं –

  • •अस्थि गठन
  • •कैल्शियम की कमी
  • •विटामिन डी की कमी
  • •कुपोषित बच्चों में दस्त संबंधी समस्या
  • •हृदय के संकुचन बल को बढ़ाएं
  • •अस्थि सुषिरता
  • •रक्त में मैग्नीशियम की कम मात्रा
  • •जस्ते की कमियां
  • •मूतवधक
  • •रक्त की जमावट
  • •अम्लत्वनाशक

Calcimax p Tablets kaise kaam karti hai? | How does Calcimax p Tablets work in Hindi?

स्वास्थ्य से जुड़ी विभिन्न प्रकार की बीमारियां होती हैं ,जो दवाइयों के माध्यम से ठीक हो जाती है। हम आपको बताएंगे कि Calcimax p टैबलेट का प्रयोग किस काम में किया जाता है।

Calcimax p   मुख्य रूप से खून में कैल्शियम की कमी की समस्या के निदान में काम आती है।जब शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाती है तो शरीर विभिन्न बीमारियों से ग्रसित होने लगता है। इसके साथ साथ शरीर खून के बजाय हड्डियों से कैल्शियम लेना शुरू कर देता है जिससे हमारी हड्डियां कमजोर होने लगती है।

यह दवा शरीर में कैल्शियम और फासफेट को उचित  बनाए रखने का काम करती है। कैल्सिमैक्स पी शरीर में जाकर नर्व सेल्स के क्रिया , मसल्स और हड्डियों को मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। शरीर में उचित मात्रा में कैल्शियम का होना बहुत आवश्यक होता है। 19 से 50 साल के व्यक्ति को रोज लगभग 1,000 mg (Recommended Dietary Allowance)  तथा 50 से 70 साल और 71 से अधिक साल के व्यक्तियों को एक दिन में लगभग 1,200 mg (RDA) कैल्शियम की जरूरत पड़ती है।जब शरीर में कैल्शियम की मात्रा कम होने लगती है तो विभिन्न प्रकार के रोग होने लगते हैं ऐसे में डॉक्टर इस दवा को लेने की सलाह देते हैं।

यह भी पढ़े :- Hifenac P Kya Hai – हिफैनक पी के उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट? | Hifenac P – Uses, Best Benefits, Dosage Precautions, Side effects in Hindi

Calcimax p Tablets se hone wale nuksan kya hai? | what are the side effects of Calcimax p Tablets in Hindi?

विभिन्न प्रकार की दवाइयों का सेवन यदि सही प्रकार से ना किया जाए तो यह हमारे लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।इससे होने वाले नुकसान को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। यदि इस दवा के सेवन के बाद शरीर में कुछ भी परिवर्तन दिखाई दे तो तुरंत डॉक्टर से सलाह करें। तो आइए जानते हैं इस टेबलेट के अधिक या गलत सेवन से होने वाले नुकसान, जो निम्नलिखित हैं-

  • •कब्ज की समस्या
  • •जी मिचलाना
  • •खाने का स्वाद ना मिलना
  • •भूख में कमी आना
  • •मुड में परिवर्तन होना
  • •उल्टी होना
  • •बेचैनी का एहसास होना
  • •थकान या कमजोरी का एहसास होना
Calcimax p Tablets का प्रयोग किन दवाइयों के साथ नहीं करना चाहिए? | what medicines should not be taken with Calcimax p Tablets in Hindi?
image source :- https://www.canva.com/

कैल्सिमैक्स पी का प्रयोग किन दवाइयों के साथ नहीं करना चाहिए? | what medicines should not be taken with Calcimax p Tablets in Hindi?

यदि आप कैल्शिमैक्स पी टेबलेट का सेवन करना चाहते हैं तो ध्यान रखें कि आपको इसकी पूर्ण जानकारी हो। क्योंकि कुछ दवाइयां ऐसी है जो Calcimax p tablet के साथ रिएक्शन करती है। हम आपको कुछ ऐसे ही दवाइयों के बारे में बताएंगे जिसके साथ इसका प्रयोग नहीं करना चाहिए-

  • •एस्पिरिन (aspirin)
  • •बायोटीन(biotin) 
  • •विटामिन डी सप्लीमेंट
  • •कैलशियम सप्लीमेंट
  • •टेट्रासाइक्लिन एंटीबायोटिक (tetracycline antibiotic)
  • •मेलाटोनिन (melatonin)
  • •मल्टीविटामिन (multivitamin)

किन बीमारियों के होने पर कैल्सिमैक्स पी का प्रयोग नहीं करना चाहिए? | What disease should not be consumed in Calcimax p Tablets in Hindi?

कई ऐसे रोग हैं, जिस समय Calcimax p का प्रयोग करना उचित नहीं है।ऐसे बिमारीयों में इस टेबलेट का इस्तेमाल करने से स्थिति काफी गंभीर हो सकती है।हम आपको ऐसे ही कुछ रोगों से अवगत कराएंगे , जिस समय इस टेबलेट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए-

  • •लीवर की बीमारी
  • •डायबिटीज की बीमारी
  • •किडनी की बीमारी

Calcimax P Conclusion:

दोस्तों हम आशा करते हैं कि आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होगी क्योंकि हमने इसमें कैल्सिमैक्स पी से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियों आपके लिए उपलब्ध करवाई है। Calcimax p Tablets से जुड़े महत्वपूर्ण विषयों जैसे Calcimax p Tablets full information in Hindi, Calcimax p Tablets ke fayde aur side effects kya hai के बारे में बताया है। इसके अलावा हमने इस बात का भी उल्लेख किया है कि किन दवाइयों के साथ इसका सेवन करना पूर्ण रूप से निषेध किया गया है।

यहां बताए गए सभी जानकारी सही है लेकिन इस बीमारी से ग्रसित होने के बाद इसके अलावा किसी भी प्रकार की दवाइयों के सेवन से पहले इस बात का ध्यान रखें कि चिकित्सक सलाह अवश्य लें। स्वास्थ्य से संबंधित अन्य जानकारियों के लिए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं और इसे अधिक से अधिक अपने मित्रों और रिश्तेदारों के साथ शेयर करें ताकि वे भी इसे संबंधित जानकारियां उपलब्ध कर सकें।

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This