डिपीव्हाइट क्रीम क्या है? उपयोग, फायदे, सावधानियां व इस्तेमाल के तरीके तथा साइड इफेक्ट | What is Depiwhite cream? Its Uses, Best Benefits, Precautions, Side effects in Hindi

Must Read

Dr. Arti Sharma
Dr. Arti Sharmahttp://goodswasthya.com
Dr. Arti Sharma is a certified BAMS doctor with at least 2 years of article writing experience on various medication and therapeutic lines. She is known for her best work in ayurvedic medication knowledge and there uses. Her hobbies including reading books and writing articles. With a good grip in sports, she uses to play for her university cricket team as a captain. Her work for ayurvedic is well known. डॉ आरती शर्मा एक प्रमाणित BAMS डॉक्टर है जिन्हे कम से कम 2 साल का विभिन्न दवाइयों और चिकित्सीय रेखाओं पर लेखन का अनुभव है। वह आयुर्वेदिक दवाओं के ज्ञान और उनके उपयोग में अपने बेहतरीन काम के लिए जानी जाती हैं। उनका शौक किताबें पढ़ना और लिखना है। खेलों में अच्छी पकड़ के साथ, वह एक कप्तान के रूप में अपनी विश्वविद्यालय क्रिकेट टीम के लिए खेल चुकी हैं। आयुर्वेद के क्षेत्र में उनका काम अच्छी तरह से जाना जाता है।

डिपीव्हाइट क्रीम – उपयोग, फायदे, सावधानियां इस्तेमाल के तरीके तथा साइड इफेक्ट | Depiwhite cream – Its Uses, Best Benefits, Precautions, Side effects in Hindi

चेहरे पर लगाने वाली काफी क्रीम का नाम आपने सुना होगा चेहरे पर लगाने की अलग-अलग तरह की क्रीम आती हैं। यदि आप धूप से अपने चेहरे को बचाना चाहते हैं तो इसके लिए सनस्क्रीन क्रीम आती है और यदि आप अपने चेहरे के दाग धब्बे मिटाना चाहते हैं, तो इसके लिए ज्यादातर लोग मेडरमा क्रीम ( Mederma ) का भी इस्तेमाल करते हैं ऐसे ही बहुत सी क्रीम होती हैंष उनमें से एक हैं डीपिवाइट क्रीम ( Depiwhite Cream ) आज इस आर्टिकल में हम इसी क्रीम के बारे में जानेंगे कि :-

  • Depiwhite Cream Kya Hai – What Is Depiwhite Cream In Hindi?
  • Depiwhite Cream की सक्रिय सामग्री – Active Ingredients of Depiwhite Cream In Hindi?
  • Depiwhite Cream Ke Fayde – Benefits Of Depiwhite Cream In Hindi?
  • Depiwhite Cream Ke Side Effect – Side Effect Of Depiwhite Cream In Hindi?
  • Depiwhite Cream Ka Use Kaise Kare – How To Use Depiwhite Cream In Hindi?
  • Depiwhite Cream से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां – Some Important Information Related to Depiwhite Cream In Hindi?
Depiwhite Cream Kya Hai | What Is Depiwhite Cream In Hindi?
image source :-https://www.canva.com/

Depiwhite Cream Kya Hai – What Is Depiwhite Cream In Hindi?

डिपीव्हाइट क्रीम ( Depiwhite Cream ) का इस्तेमाल त्वचा की बहुत सी परेशानियों के लिए किया जाता है जैसे कि त्वचा पर झुरिया और रेखाएं तथा भूरे रंग के धब्बे तथा रूखी त्वचा और उम्र के साथ पढ़ने वाले धब्बे आदि को सही करने के लिए इस क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है, और इसके साथ साथ हाइपोमेलानोटिक ( Hypomelanotic ) संबंधी त्वचा के विकारों तथा त्वचा संबंधी अनेकों बीमारियों में इस क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है ज्यादातर यह दवाई डॉक्टर के द्वारा ही दी जाती है, परंतु यदि आप सभी नियमों का पालन करें तो आप डॉक्टर की सलाह के बिना भी इस क्रीम का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Depiwhite Cream की सक्रिय सामग्री – Active Ingredients of Depiwhite Cream In Hindi?

डिपीव्हाइट क्रीम मुख्य रूप से 5 एक्टिव इनग्रेडिएंट से मिलकर बनती है जैसे कि :-

  • Hydroquinone Topical
  • Kojic Acid Topical
  • Ascorbyl Methylsilanol Pectinate Topical
  • Aluminium Silicate Topical
  • Lactic Acid Topical

इन सभी इनग्रेडिएंट का अपना अलग अलग ही काम होता है।

Depiwhite Cream Ke Fayde – Benefits Of Depiwhite Cream In Hindi?

इस क्रीम का इस्तेमाल त्वचा संबंधी काफी विकारों में किया जा सकता है, जैसे कि :-

  • यदि आपकी त्वचा पर भूरे रंग के धब्बे पड़ चुके हैं, तो इस परिस्थिति में आप डिपीव्हाइट क्रीम का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • यदि कम उम्र में ही या फिर बढ़ती उम्र में आपके मुंह पर काफी ज्यादा झाइयां पड़ चुकी हैं, तो उन झाइयों को नियंत्रण में करने के लिए इस क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है, यदि झाइयों में इस क्रीम का इस्तेमाल किया जाए तो 30 दिनों के अंदर अंदर आपको झाइयों पर काफी असर दिखेगा।
  • जिन महिलाओं की त्वचा रुकी रुकी सी होती है वह महिलाएं डिपीव्हाइट क्रीम का इस्तेमाल कर सकती हैं, क्योंकि यह क्रीम हमारी त्वचा को नमी भी पहुंच आती है।
  • यदि किसी के चेहरे पर उम्र के साथ-साथ धब्बे पड़ चुके हैं तो उन धब्बों को हटाने के लिए भी डिपीव्हाइट क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • त्वचा को एक समान रंग देने के लिए भी इस क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है, बहुत से लोगों के चेहरे की त्वचा कहीं से थोड़ी सांवली हो जाती है तो कहीं से वाइट रहती है, इस परिस्थिति में भी डिपीव्हाइट क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है।

 Depiwhite Cream Ka Use Kaise Kare – How To Use Depiwhite Cream In Hindi?

आप इस क्रीम के बारे में जब भी सुनते हैं तो आपके मन में यह सवाल जरूर आता होगा, कि हम इस क्रीम का इस्तेमाल किस प्रकार कर सकते हैं, तो हम आपको बता दें, कि इस क्रीम का इस्तेमाल आप निम्नलिखित तरीकों से कर सकते हैं जैसे कि :-

  • सबसे पहले तो प्रभावित हिस्से हो हल्के गर्म पानी से रुई की सहायता से अच्छी तरह साफ करना चाहिए, और फिर उसे थोड़ा सा सूखने दीजिए और फिर आपको दो उंगलियों पर यह क्रीम लगानी है, और उसके पश्चात प्रभावित स्थान पर मसलते रहना है।
Depiwhite Cream से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां | Some Important Information Related to Depiwhite Cream In Hindi?
  • जब आप यह क्रीम चेहरे पर लगा लेते हैं, तो उसके पश्चात इसे चेहरे पर लगे रहने दीजिए या फिर यदि डॉक्टर आपको कुछ और तरीके से इस्तेमाल करने का तरीका बताता है तो आप वह तरीका अपनाएं।
  • ज्यादातर महिलाएं इस क्रीम को रात के समय लगाकर सोती हैं, क्योंकि उनका मानना है कि रात के समय में क्रीम अपना असर ज्यादा दिखाती है, और रात के समय हम अपनी त्वचा को पूरी तरह से आराम भी दे पाते हैं। यदि आपके पास दिन के समय इस क्रीम को लगाना चाहते हैंष तो आप लगा सकते हैं परंतु इस क्रीम को लगाने के पश्चात हमें बचा को ऐसे ही रहने देना होता है, ताकि डिपीव्हाइट क्रीम अच्छे से अपना असर दिखा सके।
  • एक बात का विशेष रूप से आप को ध्यान रखना चाहिए, कि यदि एक बार आप इस क्रीम को लगाना शुरू कर देते हैं, तो फिर आपको इसे लगातार 30 से 45 दिनों तक लगाना होता है, यदि आप बीच में लगाना छोड़ देते हैं तो फिर आपको कोई भी फायदा नहीं मिलेगा।

यदि आप चेहरे पर डिपीव्हाइट क्रीम का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो सबसे पहले तो आपको एक बार किसी भी चिकित्सक से सलाह ले लेनी चाहिए। इसके अतिरिक्त आप यदि किसी समस्या से जूझ रहे हैं, जैसे कि यदि आपको कोई एलर्जी है या फिर पहले से ही कोई गंभीर बीमारी है। या फिर गर्भावस्था और इसके अतिरिक्त भी यदि आपको कोई बीमारी है तो पहले डॉक्टर को आपको बता देना चाहिए, कि हमें यह बीमारी है और इस बीमारी में हम इसका इस्तेमाल कर सकते हैं नहीं, यदि आपको डॉक्टर इस्तेमाल करने के लिए कहता है तो तभी आप इसका इस्तेमाल करें।

  • यदि आप इस क्रीम का इस्तेमाल किसी खुले घाव तथा जलन वाली त्वचा पर करना चाहते हैं, तो इससे पहले चिकित्सक से परामर्श अवश्य करें।
  • आप जब भी यह दवाई अपने चेहरे की त्वचा पर लगाते हैं, तो उस समय आपको अपने हाथ अपने होटो तक नहीं लेकर जानी चाहिए।
  • जब आप इस क्रीम को अपने चेहरे पर लगाते हैं, तो उससे पहले आपको अपने हाथ अच्छी तरह धो लेने चाहिए, और चेहरे पर क्रीम लगाने के पश्चात भी अपने हाथों को अच्छे से धोना चाहिए।
  • यदि आप इस क्रीम का इस्तेमाल कुछ ज्यादा ही मात्रा में करते हैं तो आपको पाइलिंग भी हो सकता है, इसीलिए बिल्कुल कम क्रीम का ही इस्तेमाल करें।
  • जब आप इस दवाई को अपने चेहरे पर लगाते हैं तो एक बात का विशेष रूप से ध्यान रखें कि यह क्रीम आपकी आंख में तथा नाक और मुंह में नहीं घुसनी चाहिए, अन्यथा डिपीव्हाइट क्रीम ( Depiwhite Cream ) आपको नुकसान पहुंचा सकती है।
  • खास तौर पर यदि आपने पहले से ही कोई क्रीम अपने चेहरे पर लगाई हुई है, तो ऊपर से इस क्रीम को भूलकर भी ना लगाएं या फिर इस क्रीम के ऊपर कोई दूसरी क्रीम ना लगाएं नहीं तो आपको साइड इफेक्ट हो सकता है।
  • आप ज्यादा से ज्यादा दिन में दो बार डीपी वाइट क्रीम का इस्तेमाल कर सकते हैं, परंतु इससे ज्यादा इसका इस्तेमाल ना करें। अन्यथा इससे ज्यादा किया जाने वाला इस्तेमाल साइड इफेक्ट का कारण बन सकता है।
  • 12 वर्ष से कम आयु के बच्चों को इस क्रीम का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए, और यदि किसी व्यक्ति को किसी तरह का त्वचा का इंफेक्शन है तो उस परिस्थिति में भी डिपीव्हाइट क्रीम का इस्तेमाल ना करें।
  • यदि कोई महिला अपने छोटे बच्चे को स्तनपान कराती है, तो स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी इस क्रीम का इस्तेमाल स्तनपान कराते समय नहीं करना चाहिए। क्योंकि हो सकता है कि बच्चे का हाथ आपके चेहरे पर लग जाए जिसके कारण इस दवाई क्या है, उसके हाथों पर चिपक जाए और फिर वह है अपने मुंह में उन हाथों को लगा सकता है जिसके कारण बच्चे की तबीयत खराब हो सकती है।

और पढ़े :- जानिए एस्पिरिन क्या है? उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट व इससे जुड़े सभी सवालों के जवाब हिंदी में | What is Aspirin its Uses, Best Benefits, Dosage Precautions, Side effects in Hindi

Depiwhite Cream Ke Side Effect | Side Effect Of Depiwhite Cream In Hindi?

Depiwhite Cream Ke Side Effect – Side Effect Of Depiwhite Cream In Hindi?

डिपीव्हाइट क्रीम के बहुत से साइड इफेक्ट भी हैं जो कि आपको देखने को मिल सकते हैं, यदि आप इस क्रीम का गलत तरीके से इस्तेमाल करते हैं या फिर कुछ ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल करते हैं, तो आपको काफी तरह के साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जैसे कि :-

  • इस क्रीम के साइड इफेक्ट के रूप में आपको अपने चेहरे की त्वचा पर बहुत ज्यादा जलन महसूस हो सकती है, जिसके कारण आपकी त्वचा लाल रंग की भी दिखाई दे सकती है।
  • डिपीव्हाइट क्रीम के साइड इफेक्ट के रूप में आपकी त्वचा पर बहुत ज्यादा खुजली भी हो सकती है क्योंकि खुजली होना इस क्रीम के दुष्प्रभावों में सबसे मुख्य है।
  • यदि आप अपने चेहरे की त्वचा पर इस क्रीम का इस्तेमाल कर रहे हैं, और अधिक मात्रा में यदि आप इस्तेमाल करते हैं तो फिर आपके चेहरे पर कील मुंहासे भी ज्यादा हो सकते हैं, या फिर आपके चेहरे पर फुंसियां भी निकल सकती है।
  • इस क्रीम के साइड इफेक्ट के रूप में यह भी हो सकता है, की जिस लिए आप इस क्रीम का इस्तेमाल कर रहे हैं आपको वह ला भी ना प्राप्त हो, इसीलिए इस क्रीम का इस्तेमाल उचित मात्रा में ही करें, और ज्यादा जानकारी के लिए अपने नजदीकी किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह ले ले ताकि आपको कोई नुकसान ना पहुंच पाए।
  • यदि आप अपने चेहरे पर इस क्रीम का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो इस दौरान अपने खाने-पीने का भी विशेष रूप से ध्यान रखें। क्योंकि यदि आप ज्यादा तेल वाला भोजन खाते हैं तो इस क्रीम के साथ वह नुकसान कर सकता है, या फिर ऐसा भी हो सकता है कि आपको इस क्रीम का कोई फायदा ही ना हो।

Depiwhite Cream Conclusion –

हम उम्मीद करते हैं कि डीपी वाइट क्रीम से संबंधित हमारी यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी और आपको डिपीव्हाइट क्रीम ( Depiwhite Cream ) से संबंधित सभी जानकारियां भी मिल गई होगीष जैसे कि Depiwhite Cream Ka Use Kaise Kare और Depiwhite Cream Ke Fayde तथा इसके साथ-साथ हमने आपको Depiwhite Cream Ke Side Effect और  डिपीव्हाइट क्रीम से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां भी दी हैं, ताकि आप इस क्रीम का इस्तेमाल करते समय किन बातों का ध्यान रख सके, यदि अब भी आपको डीपी वाइट क्रीम से संबंधित कोई प्रश्न हम से पूछना हो, तो आप कमेंट सेक्शन में कमेंट कर सकते हैं हम आपको उसका जवाब जरूर देंगे। धन्यवाद

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This