हिमालया हिमकोलिन जेल – उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट | (हिमालय पेनिस जेल) or Himalaya Himcolin Gel Uses, Benefits, Dosage, Precaution & Side effects in Hindi

Must Read

Himalaya Himcolin Gel Table of Contents:

What is Himalaya Himcolin Gel Introduction in Hindi – हिमालया हिमकोलिन जेल (हिमालय पेनिस जेल) क्या है ?

नमस्कार दोस्तों, आज हम चर्चा करेंगे अत्यंत महत्वपूर्ण विषय के बारे में।

जी हां, हमारा आज का विषय है नपुसंकता ओर शिश्न का अस्थंभन(erectile disorder) जो कि अत्यंत आवश्यक विषय है, जिसका उपचार उतना ही आवश्यक है जितनी इसके बारे में जानकारी।

हमारे आज के लेख मे हम, नपुसंकता ओर शिश्न का अस्थंभन(erectile disorder) जैसे विषय पर जानकारी देंगे ओर साथ मे आपको बताएंगे इसके उपचार हेतु एक कारगर औषधि रूपी जेल जिसके बाहरी प्रयोग से इस प्रकार की तमाम परेशानियों से राहत मिलेगी।

दोस्तो, पुरुषों में, अक्सर युवाओं मे आजकल लिंग के न उत्तेजित होना, या कामवासना का ना होना, आम बात हो चुकी है, यह समस्या इन्हे न केवल शारीरिक रूप से अस्वस्थ्य बनाती अपितु इस वजह से पुरुष मानसिक रूप से भी परेशानियों से घिरा हुआ रहता है।

दरसअल, आजकल का गलत खानपान, शराब, गांजा,आदि मादक पदार्थ का अधिक सेवन ओर मानसिक तनाव, लैंगिक स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डालने वाले सामान्य कारण है जिस वजह से नपुसंकता ओर शिश्न का अस्तंभन(erectile disorder) जैसी परेशानियों को बढ़ावा मिलता है।

लेकिन चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि आज हम आपको ऊपर वर्णित परेशानियों के समाधान रूपी औषधि जेल के बारे में बताएंगे जिसका उपयोग लैंगिक समस्याओं जैसे लिंग के स्तंभित न होना, कामोत्तेजना का न होना, आदि प्रकार की परेशानियों के उपचार हेतु उपयोग किया जाता है।

आज के औषधि रूपी जेल का नाम है हिमकोलीन जेल जो की खासकर लिंग को स्तंभन प्रदान करने के लिए बाहरी रूप से उपयोग किया जाता है।

हम आपको बताएंगे :

  • हिमकोलिन जेल के निर्माण तत्व
  • हिमकोलिन जेल के गुण कर्म
  • इसके उपयोग विधी
  • प्राप्ति हेतु
  • दुष्प्रभाव
  • सावधानियां आदि के बारे में।

हिमकॉलीन जेल से संबंधित समस्त जानकारी प्राप्त करने हेतु इस लेख को अंत तक पढ़िए।

और पढ़ें – एसिडिटी और गैस की लिए कैसे ओमी टेबलेट(Omee Tablet) है मददगार।

Himalaya Himcolin Gel Composition in Hindi – हिमालया हिमकोलिन जेल(हिमालय पेनिस जेल) के घटक ?

आइए बिना आपका समय गवाएं चर्चा करते हैं हिमकॉलीन जेल के निर्माण मे उपयुक्त घटक द्रव्य के बारे में।

इसे निम्न लिखित आयुर्वेदिक औषधि द्रव्य के मिश्रण से निर्मित किया जाता है

  1. ज्योतिष्मति 
  2. बादाम 
  3. लताकस्तूरी 
  4. निर्गुन्डी 
  5. जायफल 
  6. जावित्री 
  7. तेजपत्ता 
  8. लौंग 
  9. कर्पसा 
  10. मुकुलक

How does Himalaya Himcolin Gel work in Hindi – हिमालया हिमकोलिन(हिमालय पेनिस जेल) जेल कैसे काम करता है ?

आइए अब इसके गुण कर्म की चर्चा करते हैं।

Peculiarities and functions of Himalaya Himcolin Gel: हिमालया हिमकोलिन जेल(हिमालय पेनिस जेल) का गुण कर्म ?

A. Himcolin Gel, himalaya कम्पनी का एक आयुर्वेदिक उत्पाद है, जिसमें (Vasodilation) गुणों का समावेश होता है।

B. हिमकॉलीन जेल खासकर पुरुषों के लिए बनी एक आयुर्वेदिक दवा है और इसके निर्माण में उपयुक्त सभी

घटक द्रव्य का अपना विशेष कर्म होता है जिस वजह से यह दवा को बेहतर से बेहतरीन बनाने का कार्य करते है।

C. ज्योतिषमति इस दवा का मुख्य सक्रिय औषधि घटक है, जो शिश्न स्तंभन(penile erection) के लिए शिश्न की मांसपेशियों में रक्त का प्रवाह(blood flow) बढ़ाने का कार्य करता है। 

यह घटक द्रव्य शिश्न की मांसपेशियों(muscles) को मजबूती प्रदान करता है।

D. इसमें उपस्थित बादाम ,शरीर में पोषक तत्वों की आवश्यकता को पूरा कर शारीरिक कमजोरी और मानसिक थकावट(mentle fatigue) को दूर करने का कार्य करता है। 

E. यह ऊर्जावर्धक(energy booster) की तरह कार्य कर व्यक्ति की यौन क्रियाओं(sexual performance) को बढ़ाता है।

F. इस जेल में उपस्थित लताकस्तूरी एक कामोद्दीपक(libido enhancer) औषधि है, जो पुरुषों को संभोग के प्रति आकर्षित करती है और यौन उत्तेजना(sexual desires) को बढ़ाती है। 

G. यह औषधि शीघ्रपतन को रोककर वीर्य स्खलन(ejaculation) के समय को बढ़ाने में मददगार है।

H. इसमें मिलाई जाने वाली निर्गुन्डी, यौन स्वास्थ्य(sexual health) के लिए एक फायदेमंद औषधि है जो लिंग के स्तंभन दोष(erectile disorder) और यौन भावना(libido) की कमी को दूर करने में मददगार है।

I. इसमें उपस्थित जायफल, जावित्री, तेजपत्ता और लौंग सभी घरेलू मसालें होते है जो ना केवल मसाले आई अपितु औषधि द्रव्य की तरह भी कार्य करते है। ये सभी घटक द्रव्य पुरुषों में होने वाले शीघ्रपतन, नपुंसकता, स्तंभन दोष और बांझपन के बेहतर इलाज में सहायक होते है।

Himalaya Himcolin Gel Uses and Benefits in Hindi – हिमालया हिमकोलिन जेल(हिमालय पेनिस जेल) के उपयोग और फायदे क्या है ?

1. स्तंभन समस्या(erectile disorder) आजकल की पीढ़ियों में आम बात हो गई है। शिश्न में तनाव(stress) न आना, शिश्न का ढीला बने रहना इसका प्रमुख लक्षण है।

2. Himcolin Gel मुख्यत स्तंभन दोष(erectile disorder) या नपुसंकता(infertility) की शिकायतों को दूर करने में मददगार है। यह जेल शिश्न को आसानी से उत्तेजित कर देता है जिससे पुरुष को मानसिक आराम और लैंगिक सुख आसानी से प्राप्त हो जाता है।

3. इसे नर जनन अंग (शिश्न) penis पर प्रयोग किया जाता है और यह शीघ्रपतन(early ejaculation) को नियंत्रित कर यौन सुख को बढ़ाने में मददगार होता है।

4. अक्सर मधुमेह से पीड़ित रोगियों मे नपुसंकता के मामले अधिक होने की संभावना होती है, ऐसे में इस जेल का प्रयोग लाभदायक परिणाम देता है।

5. शीघ्रपतन या जल्दी स्खलन होना आजकल के युवाओं में बढ़ी तेजी से बढ़ने वाली परेशानी है, जिसकी वजह से हर एक युवा परेशान है ओर अपने यौवन सुख लेने से वर्जित है। इस प्रकार की परेशानी मे हिमकॉलीन जेल का इस्तेमाल करना लाभदायक परिणाम देता है।

6. Himcolin Gel का निर्माण स्तंभन दोष को दूर करने हेतु किया गया है। अतः जो युवा है पुरुष स्तंभन दोष या erectile disorder से ग्रस्त है उन्हे इसका प्रयोग अवश्य करना चाहिए।

7. बांझपन एक अभिशाप की तरह व्यवहार मे लाई जाने वाली बीमारी है जिसे समाज कुछ अलग ही नजरिए से देखता है। किन्तु ऐसा कुछ नहीं है, बांझपन ठीक किया जा सकता है अगर औषधि का उचित तरीके से सेवन किया जाए। हिमकॉलीन जेल का बाहरी इस्तेमाल ओर साथ मे बांझपन से संबंधित औषधि सेवन इस तरह को परेशानियों के लिए सकारात्मक परिणाम देता है।

8. युवा अवस्था मे की हुई गलतियों की वजह से लिंग का टेढापन, लिंग की नसों में शिथिलता आदि होना आजकल के युवा की प्रमुख व्यधिं है जो कि एक चिंताजन्य विषय हैं। इस तरह की परेशानियों मे हिमकॉलीन जेल का प्रयोग लाभदायक होता है।

Himalaya Himcolin Gel Dosage in Hindi – हिमालया हिमकोलिन जेल(हिमालय पेनिस जेल) की खुराक क्या है ?

Himcolin Gel को इस्तेमाल करने से पहले शिश्न(penis) और हाथों को धोकर अच्छे से साफ कर लें। 

अब हिमकॉलीन जेल की थोड़ी सी मात्रा हथेली पर लेकर शिश्न के निचले हिस्सें पर हल्के हाथों से लगाए ओर कुछ देर तक मालिश करें।

 2-3 मिनट की मालिश के बाद कुछ देर के लिए उस हिस्से को न छूए।

Apply किए गए हिमकॉलीन जेल को संभोग के आधे या एक घंटे पहले लगाए, जिससे सहवास के दौरान, इसका पूरा असर प्राप्त हो।

Himcolin Gel को शिश्न के ऊपरी हिस्सें (glance penis)) पर प्रयोग न करें क्योंकि ऊपरी हिस्से की त्वचा बेहद संवेदनशील(sensitive) होती है, जिस वजह से उस पर जलन महसूस हो सकती है।

इस जेल को लगाने के बाद जब शिश्न उत्तेजित होना प्रारम्भ कर दे, तब संभोग से पहले शिश्न(penis) को पानी से अच्छी तरह धो लें, ताकि यह दवा(हिमकॉलीन जेल) योनि(vagina) को प्रभावित न कर सकें।

From Where to Buy Himalaya Himcolin Gel ? – हिमालया हिमकॉलिन जेल(हिमालय पेनिस जेल) को कहाँ से खरीदें ?

हिमकॉलीन जेल को आप किसी भी आयुर्वेदिक औषधि दुकान से इसी नाम से प्राप्त कर सकते है।

 अनेक कंपनियां इस प्रकार के जेल का निर्माण करती है,किन्तु ख़ासतौर पर हिमालय कंपनी द्वारा निर्मित हिमकॉलीन जेल अधिक प्रयोग मे लाया जाने वाला जेल है।

इसे आप ऑनलाइन भी मंगवा सकते हैं।

Himcolin Gel को ऑनलाइन प्राप्त करने हेतु नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें

https://www.amazon.in/dp/B012D87HCU/ref=cm_sw_r_cp_apa_glc_fabc_T7JDJC8WYFD48NFP0Z8Q

What are the Side Effects of Himalaya Himcolin Gel ? – हिमालया हिमकॉलिन जेल(हिमालय पेनिस जेल) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं ?

Himcolin Gel का अगर सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो दुष्प्रभाव होने की संभावना नहीं बराबर होती है, किन्तु अगर इसका अनियमित ओर अतिमात्रा मे प्रयोग किया जाए तो कुछ विपरीत प्रभाव देखने को मिल सकते हैं।

इसके अधिक प्रयोग से निम्न प्रभाव उत्पन्न होते है

  • जलन होना
  • शिश्न पर दाने निकलना
  • शिश्न का लाल होना
  • सिर दर्द होना

What are the Precautions of Himalaya Himcolin Gel ? – हिमालया हिमकॉलिन जेल(हिमालय पेनिस जेल) के प्रयोग में क्या सावधानियां बरतनी चाहिए ?

Himcolin Gel का निर्माण 18 वर्ष या इससे अधिक।उम्र के लोगो के लिए किया जाता है, अतः वयस्क ही इसका प्रयोग करे।

हिमकॉलीन का प्रयोग छोटे बच्चों के लिए अनुशंसित नहीं है अतः छोटे बच्चों को इस दवा से दूर रखा जाए।

हिमकॉलीन जेल का इस्तेमाल चिकित्सक द्वारा सुझाए अनुसार ही करना चाहिए।

Himcolin Gel केवल बाहरी इस्तेमाल के लिए बना है, गलती से भी इसे orally प्रयोग न करें। 

इसके प्रयोग के दौरान अगर किसी प्रकार की विपरीत स्थिति दिखाई दे तो तुरंत ही किसी डॉक्टर से संपर्क करें।

What are the Frequently asked Questions on Himalaya Himcolin Gel ? – हिमालया हिमकॉलिन जेल(हिमालय पेनिस जेल) के अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न ?

1) क्या हिमकॉलीन जेल लिंग(penis) के आकार में वृद्धि कर सकता है?

यह जेल लिंग को लंबा या मोटा करने में समर्थ नहीं है, क्योंकि इसका प्रयोग erectile function को सक्रिय करने के लिए किया जाता है।

क्या हिमकॉलीन जेल को अविवाहित लोग इस्तेमाल कर सकते है?

यह जेल वयस्कों के लिए बनी दवा है जिसे 18 वर्ष या इससे अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति इस्तेमाल कर सकता है, चाहे विवाहित हो या अविवाहित।

क्या हिमकॉलीन जेल को लगा कर कंडोम का इस्तेमाल किया जा सकता है?

हां, हिमकॉलीन जेल के प्रयोग के बाद कंडोम का इस्तेमाल कर यौन संचरित रोगों (STD) से बचा जा सकता है। लेकिन कंडोम लगाने से पूर्व शिश्न को अच्छी तरह धो लेना चाहिए जिससे किसी प्रकार की skin allergy ना हो।

क्या हिमकॉलीन जेल वीर्य दोष के इलाज में सहायक है?

नहीं, यह जेल वीर्य की कमजोरी को दूर करने में सक्षम नहीं है।
इस जेल का प्रयोग सिर्फ बाहरी कार्यों के लिए जैसे लिंग का कड़कपन आदि के लिए किया जाता है, जो वीर्य दोष का इलाज करने में नाकाम साबित होता है। हालांकि इस जेल का प्रयोग वीर्य स्खलन क्षमता(ejaculation time) को बढ़ाने में जरूर मददगार है।

हिमकॉलीन जेल का इस्तेमाल कितने समय तक किया जाना उचित है?

इस जेल को लगभग 1 से 2 महीने रेगुलर इस्तेमाल किया जाना चाहिए जैसे लिंग की समस्याओं में बेहद अच्छा परिणाम मिलता है।

इस जेल को दिन में अधिकतम कितनी बार इस्तेमाल किया जा सकता है?

इस जेल को दिन में अधिकतम दो बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

क्या हिमकॉलीन जेल के इस्तेमाल के साथ शराब की खुराक लेना सुरक्षित है?

हिमकॉलीन जेल को लगाने के बाद यह दवा लिंग की मांसपेशियों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने में लग जाती है। इससे मानसिक उत्तेजना(desires) पैदा होती है और ऐसे समय में शराब के सेवन से ये उत्तजेना प्रभावित हो सकती है, जिससे इस जेल का असर कम हो जाता है।
इसलिए इसके इस्तेमाल के दौरान शराब का सेवन नहीं करना चाहिए।

क्या हिमकॉलीन जेल के इस्तेमाल के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

हाँ, इस जेल का इस्तेमाल करने के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है क्योंकि यह दवा लंबे समय के लिए लिंग में स्तंभन उत्पन्न नहीं कर सकती है।
दरसअल लिंग का स्तंभन अपने पार्टनर के स्पर्श पर निर्भर करता है, जिससे दवा का असर होने लगता है और लिंग में कड़कपन आता है।

क्या हिमकॉलीन जेल से इसकी आदत लग सकती है?

नहीं,हिमकॉलीन जेल के इस्तेमाल से इसकी आदत नहीं लगती है,क्योंकि यह मस्तिष्क को प्रभावित नहीं करता है।

क्या यह जेल भारत में लीगल है?

हाँ, यह एक आयुर्वेदिक दवा है जो भारत में पूर्णतया लीगल है। यह बाजार और ऑनलाइन स्टोर पर आसानी मिल सकती है।

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This